मेट्रो शहरों में चल रहे ड्रग तस्कर गिरोह का भंडाफोड़; 2 करोड़ रुपये के ड्रग्स जब्त

मेट्रो शहरों में चल रहे ड्रग तस्कर गिरोह का भंडाफोड़; 2 करोड़ रुपये के ड्रग्स जब्त
मेट्रो शहरों में चल रहे ड्रग तस्कर गिरोह का भंडाफोड़; 2 करोड़ रुपये के ड्रग्स जब्त बेंगलुरु, 2 अगस्त (आईएएनएस)। कर्नाटक पुलिस ने मंगलवार को ड्रग तस्कर गिरोह का भंडाफोड़ करने का दावा किया है, जो मेट्रो शहरों में डार्क नेट, क्रिप्टो करेंसी और इंस्टाग्राम, टेलीग्राम जैसे मैसेंजर एप्लिकेशन का उपयोग करके ग्राहकों को ड्रग्स की आपूर्ति करता है।

पुलिस ने कहा कि सिटी सेंट्रल क्राइम ब्रांच (सीसीबी) की एंटी-नारकोटिक्स विंग ने मराठल्ली और व्हाइटफील्ड में एक अभियान चलाया और दो करोड़ रुपये के नशीले पदार्थ जब्त किए और दिल्ली और बिहार से पांच लोगों को गिरफ्तार किया।

आरोपियों के पास से एमडीएमए क्रिस्टल, एमडीएमए एक्स्टसी पिल्स, एलएसडी स्ट्रिप्स, कोकीन, हशीश ऑयल, चरस और गांजा भी बरामद किया गया है।

पुलिस ने आरोपियों के पांच बैंक खाते फ्रीज करा दिए हैं। जांच में पता चला है कि नई दिल्ली के आरोपी ने विदेशी ड्रग माफिया से क्रिप्टो करेंसी के जरिए ड्रग्स खरीदा था।

देश भर के बेरोजगार युवाओं को अधिक वेतन का लालच दिया गया। आरोपी ने बेंगलुरु, दिल्ली, मुंबई और चेन्नई के पीजी में हायर एजेंट रखे थे। उन्होंने भारतीय डाक सेवा और अंतर्राष्ट्रीय कूरियर सेवाओं के माध्यम से ड्रग्स को उनके कमरों में पार्सल कराया।

आरोपी ने ग्राहकों से संपर्क करने और भोले-भाले लोगों को लुभाने के लिए टेलीग्राम, इंस्टाग्राम, बियार, कॉन्फिड और सेशन मैसेंजर एप्लीकेशंस के जरिए कीमत और ड्रग्स की जानकारी दी। उन्होंने टेलीग्राम ऐप के माध्यम से ऑर्डर प्राप्त किए और ऑनलाइन भुगतान मोड के माध्यम से पैसे प्राप्त किए।

डंजो और पोर्टर लॉजिस्टिक्स सेवाओं के माध्यम से ग्राहकों के दरवाजे तक ड्रग्स को जन्मदिन के उपहार, चिकित्सा आपातकालीन किट और कूरियर लिफाफे के रूप में वितरित किया गया था।

आगे की जांच जारी है।

--आईएएनएस

एचके/एएनएम

Share this story