मैं पिछले दो साल से अपनी बल्लेबाजी पर काम कर रहा हूं : राशिद खान

मैं पिछले दो साल से अपनी बल्लेबाजी पर काम कर रहा हूं : राशिद खान
मैं पिछले दो साल से अपनी बल्लेबाजी पर काम कर रहा हूं : राशिद खान मुंबई, 28 अप्रैल (आईएएनएस)। अफगानिस्तान के स्टार क्रिकेटर राशिद खान ने तेज गेंदबाज मार्को जानसेन की चार गेंदों में तीन छक्के लगाकर गुजरात टाइटंस को बुधवार को वानखेड़े स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद पर पांच विकेट से रोमांचक जीत दिलाई।

रोमांचक जीत दर्ज करने के बाद राशिद खान ने कहा कि पिछले दो साल से अपनी बल्लेबाजी पर काम कर रहा हूं, जिससे इस तरह के प्रदर्शन को अंजाम देने के लिए आत्मविश्वास बढ़ा है।

राहुल तेवतिया (नाबाद 40) और राशिद खान (नाबाद 31) की धुआंधार बल्लेबाजी ने गुजरात टाइटंस को बुधवार को यहां वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2022 के रोमांचक मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को पांच विकेट से हरा दिया।

मध्य में तेवतिया और राशिद के साथ 16 ओवरों के बाद गुजरात 140/5 पर परेशानी की स्थिति में था। दोनों बल्लेबाजों ने मैच में कई अच्छे शॉट लगाए। 12 गेंदों पर 35 रन चाहिए थे, बाएं हाथ के तेवतिया ने टी नटराजन को चौका लगाकर और सिंगल लिया, जिसके बाद राशिद ने छक्का लगाया था।

गुजरात को पारी के आखिरी ओवर में 22 रनों की जरूरत थी और तेवतिया ने मार्को जानसेन को डीप मिडविकेट पर एक और छक्का लगाकर सही शुरुआत की, लेकिन अगली गेंद पर केवल सिंगल लिया। इसके बाद, राशिद ने विस्फोटक बल्लेबाजी की और चार गेंदों में तीन छक्के लगाकर अपनी टीम को जीत हासिल करने में मदद की।

उन्होंने कहा, मैं उनके (पूर्व क्लब सनराइजर्स हैदराबाद) के खिलाफ ऐसा करके खुश था, लेकिन मैं सिर्फ अपना खेल खेलने की कोशिश कर रहा था और मुझे अपनी बल्लेबाजी पर विश्वास था, जिस पर मैं पिछले दो साल से काम कर रहा हूं।

यह पूछे जाने पर कि अंतिम ओवर के दौरान उनके और तेवतिया के बीच क्या हुआ, राशिद ने कहा, जब 22 रन चाहिए थे, तो मैंने तेवतिया से कहा था कि हमने अपने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज (लॉकी फग्र्यूसन) के साथ आखिरी ओवर में 25 रन दिए हैं। हमें बस खुद पर यह विश्वास रखना होगा कि हम भी इतने रन बना सकते हैं। घबराओ मत। बस मजबूत रहो और हमें इसे खत्म करने या जितना संभव हो उतना करीब पहुंचने की जरूरत है, क्योंकि इससे हमें रन रेट में मदद मिल सकती है।

उन्होंने आगे कहा, लेकिन जब तक हमारे पास वह विश्वास है, हम कुछ भी कर सकते हैं। बस खुद को मजबूत करें। तो यह हमारी योजना थी और सौभाग्य से हमने वह चार छक्के लगा दिए।

राशिद के विचार का समर्थन करते हुए तेवतिया ने कहा कि मैच खत्म करने के उनके पहले के अनुभव ने उन्हें ऐसी परिस्थितियों में मदद की।

--आईएएनएस

आरजे/एसकेपी

Share this story