रांची के जेएससीए ग्राउंड का इतिहास टीम इंडिया के पक्ष में, न्यूजीलैंड से पांच साल पुराना हिसाब चुकाने का भी है मौका

रांची के जेएससीए ग्राउंड का इतिहास टीम इंडिया के पक्ष में, न्यूजीलैंड से पांच साल पुराना हिसाब चुकाने का भी है मौका
रांची के जेएससीए ग्राउंड का इतिहास टीम इंडिया के पक्ष में, न्यूजीलैंड से पांच साल पुराना हिसाब चुकाने का भी है मौका रांची, 18 नवंबर (आईएएनएस)। रांची के जेएससीए ग्राउंड का इतिहास टीम इंडिया के साथ है। यहां अब तक खेले टी-20 के दो अंतरराष्ट्रीय हुए हैं और इन दोनों में टीम इंडिया ने जीत दर्ज की है। अब 19 नवंबर को इस मैदान पर होनेवाले तीसरे अंतरराष्ट्रीय टी-20 मुकाबले में भी टीम इंडिया अपना रिकॉर्ड बरकरार रखने की कोशिश करेगी। अगर ऐसा होता है तो न्यूजीलैंड के साथ तीन टी-20 मैचों की सीरिज पर भी टीम इंडिया का कब्जा हो जायेगा। 38 हजार दर्शक क्षमता वाले इस स्टेडियम में शुक्रवार को होनेवाले मुकाबले को लेकर दर्शकों में जबर्दस्त उत्साह दिख रहा है।

इस ग्राउंड पर पहला इंटरनेशनल टी-20 मुकाबला 12 फरवरी 2016 को इंडिया और श्रीलंका के साथ हुआ था और इसमें टीम इंडिया ने 69 रनों के अंतर से आसान जीत दर्ज की थी। दूसरा टी-20 मुकाबला आस्ट्रेलिया के साथ 7 अक्टूबर 2017 को हुआ था, जिसमें इंडिया ने आस्ट्रेलिया को 9 विकेट से परास्त किया था।

यह दूसरा मौका है, जब इस मैदान पर किसी इंटरनेशनल मैच में न्यूजीलैंड और इंडिया की टीमें आमने-सामने होंगी। दोनों टीमें यहां 16 अक्टूबर 2016 को वनडे इंटरनेशनल मैच में भिड़ीं थीं, जिसमें न्यूजीलैंड ने इंडिया को 19 रनों से हरा दिया था। इस लिहाज से देखें तो इंडिया के पास इस मैदान में मिली पांच साल पुरानी हार का हिसाब चुकता करने का मौका है।

बता दें कि जेएससीए स्टेडियम में लगभग 2 साल के बाद 19 नवंबर को कोई इंटरनेशनल मैच खेला जाएगा। इसके पहले 2019 में जेएससीए स्टेडियम में भारत-दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच खेला गया था। यहां टी-20 मुकाबला लगभग 4 साल बाद हो रहा है।

--आईएएनएस

एसएनसी/एएनएम

Share this story