रोहिंग्या नेता की हत्या को लेकर बांग्लादेश में गिरफ्तारियां जारी

रोहिंग्या नेता की हत्या को लेकर बांग्लादेश में गिरफ्तारियां जारी
रोहिंग्या नेता की हत्या को लेकर बांग्लादेश में गिरफ्तारियां जारी ढाका, 9 अक्टूबर (आईएएनएस)। बांग्लादेश के कॉक्स बाजार में रोहिंग्या नेता मोहम्मद मोहिब उल्लाह की हत्या में कथित संलिप्तता के आरोप में पांच और रोहिंग्या आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

सशस्त्र पुलिस बटालियन (एपीबीएन) द्वारा मामले के सिलसिले में छह अन्य लोगों को गिरफ्तार किए जाने के एक दिन बाद ताजा गिरफ्तारियां हुई हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, एपीबीएन की एक विशेष टीम ने रोहिंग्या नेता मोहिब उल्लाह की हत्या के मद्देनजर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए विभिन्न उखिया शिविरों (कॉक्स बाजार में) पर छापेमारी की।

अज्ञात बंदूकधारियों के एक समूह ने 29 सितंबर को उखिया के एक शरणार्थी शिविर में 48 वर्षीय मोहिब उल्लाह की हत्या कर दी थी।

मोहिब उल्लाह एक उदारवादी रोहिंग्या समूह, अराकान रोहिंग्या सोसाइटी फॉर पीस एंड ूयहमन राइट्स के अध्यक्ष थे और पश्चिमी मीडिया में रोहिंग्या की आवाज के रूप में जाने जाते थे।

पुलिस अधीक्षक और 14वीं सशस्त्र पुलिस बटालियन के कप्तान मोहम्मद नैमुल हक ने शनिवार को आईएएनएस को बताया कि शुक्रवार रात से शनिवार सुबह तक उखिया में विभिन्न रोहिंग्या शिविरों में छापेमारी के बाद पांचों को गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान खालिद हुसैन (33), मास्टर सैयद (38), मोहम्मद शकर (35), मोहम्मद (18) और मोहम्मद इलियास (22) के रूप में हुई है।

एपीबीएन के कप्तान ने कहा, रोहिंग्या शिविरों पर केंद्रित एक आतंकवादी संगठन के पांच सदस्यों को हिरासत में लिया गया है। उन पर जबरन वसूली, हत्या, अपहरण, डकैती, मादक पदार्थो की तस्करी, मानव तस्करी और पुलिस पर हमले का आरोप लगाया गया है।

बंदियों को उखिया पुलिस को सौंप दिया गया।

बांग्लादेश के विदेश सचिव मसूद बिन मोमेन ने उल्ला की हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण घटना करार देते हुए आईएएनएस से कहा कि सरकार हत्यारों को नहीं बख्शेगी।

उन्होंने शनिवार को चार रोहिंग्या शिविर का दौरा करने के बाद कहा कि हत्या या कोई गड़बड़ी रोहिंग्याओं की प्रत्यावर्तन प्रक्रिया में बाधा नहीं बनेगी।

रोहिंग्या शरणार्थियों ने कहा कि गिरफ्तार किए गए व्यक्ति अराकान रिपब्लिकन सॉल्वेशन आर्मी (एआरएसए) के सदस्य हैं, जो एक प्रतिबंधित रोहिंग्या आतंकवादी संगठन है।

--आईएएनएस

एसजीके

Share this story