रोहित, ईशान और बुमराह को आईपीएल मेगा नीलामी में मुंबई को बनाए रखना चाहिए: सहवाग

रोहित, ईशान और बुमराह को आईपीएल मेगा नीलामी में मुंबई को बनाए रखना चाहिए: सहवाग
रोहित, ईशान और बुमराह को आईपीएल मेगा नीलामी में मुंबई को बनाए रखना चाहिए: सहवाग नई दिल्ली, 10 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग को लगता है कि पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस को आगामी आईपीएल मेगा नीलामी से पहले कप्तान रोहित शर्मा, युवा खिलाड़ी ईशान किशन और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को अपनी टीम में बनाए रखना चाहिए।

बीसीसीआई ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि आईपीएल 2022 मौजूदा आठ टीमों के मुकाबले 10 टीमों का होगा और सीजन की शुरूआत से पहले एक मेगा नीलामी होने वाली है।

भले ही आईपीएल मेगा नीलामी के सटीक नियमों की घोषणा की जानी बाकी है, लेकिन विश्वास यह है कि प्रत्येक फ्रेंचाइजी को अधिकतम तीन खिलाड़ियों को बनाए रखने की अनुमति होगी। अगर वास्तव में ऐसा है, तो सहवाग उन तीन नामों के बारे में बहुत स्पष्ट हैं जो उन्हें लगता है कि मुंबई बरकरार रहेगा।

सहवाग के मुताबिक, ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को छोड़कर मुंबई को अपनी टीम में रोहित शर्मा, ईशान किशन और जसप्रीत बुमराह को बरकरार रखना चाहिए।

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज सहवाग का मानना है कि अगर हार्दिक गेंदबाजी नहीं करते हैं तो चोट की वजह से उन्हें नीलामी में मोटी रकम नहीं मिल पाएगी।

मुंबई इंडियंस के आखिरी लीग मैच के बाद सहवाग ने कहा, मुझे लगता है कि मुंबई को ईशान किशन, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह को रिटेन करना चाहिए । ईशान लंबी दौड़ के लिए टीम के लिए खेल सकते हैं क्योंकि उनके पास उम्र है। अगर हार्दिक पंड्या गेंदबाजी नहीं करते हैं, तो मुझे नहीं करता लगता है कि वह नीलामी में बड़ी रकम हासिल करने में सक्षम होगें क्योंकि उसकी चोट की चिंताओं के कारण हर टीम दो बार सोचेगा।

सहवाग ने कहा, हार्दिक गेंदबाजी करेगा या नहीं? अगर वह खुद को फिट घोषित कर सकता है और गेंदबाजी शुरू कर सकता है तो टीमें उसे नीलामी में खरीद सकती हैं। ईशान किशन ने जिस तरह का प्रदर्शन किया है उससे कई और उम्मीदें हैं। वह हार्दिक पांड्या के विपरीत शीर्ष क्रम का बल्लेबाज है, जबकि हार्दिक निचली क्रम में बल्लेबाजी करता है।

पीठ की सर्जरी के बाद से हार्दिक ने ज्यादा गेंदबाजी नहीं की है। 27 वर्षीय ऑलराउंडर ने आईपीएल 2021 में मुंबई इंडियंस के लिए एक भी गेंद नहीं फेंकी है।

हार्दिक का गेंदबाजी नहीं करना भी भारतीय क्रिकेट टीम के टी20 विश्व कप में संतुलन के लिए एक बड़ी चिंता है। अगर ऑलराउंडर आगामी विश्व कप में भारत के लिए गेंदबाजी नहीं करता है, तो यह प्लेइंग इलेवन में एक बड़ा असंतुलन पैदा करेगा।

17 अक्टूबर से शुरू हो रहे टी20 विश्व कप के लिए टीम की घोषणा करते हुए चयनकतार्ओं के अध्यक्ष चेतन शर्मा ने कहा था कि पांड्या पूरी तरह से फिट हैं और वह इस मेगा इवेंट में अपने कोटे के ओवर गेंदबाजी कर सकेंगे।

--आईएएनएस

आरएसके/आरजेएस

Share this story