लेबनान ने अंतरराष्ट्रीय सहायता के लिए आईएमएफ के साथ बातचीत शुरू की

लेबनान ने अंतरराष्ट्रीय सहायता के लिए आईएमएफ के साथ बातचीत शुरू की
लेबनान ने अंतरराष्ट्रीय सहायता के लिए आईएमएफ के साथ बातचीत शुरू की बेरुत, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। लेबनान ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ बातचीत फिर से शुरू कर दी है, साथ ही अंतरराष्ट्रीय समर्थन के साथ एक रिकवरी कार्यक्रम की मांग की है। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में यह जानकारी दी है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को जारी बयान में कहा गया है कि लेबनान अन्य सभी हितधारकों के साथ एक रचनात्मक, पारदर्शी और न्यायसंगत ऋण पुनर्गठन प्रक्रिया में संलग्न होने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

सात ही सरकार सभी लेनदारों के लिए एक निष्पक्ष और व्यापक समाधान के लिए अपनी प्रतिबद्धता दोहराती है और अपने वित्तीय और कानूनी सलाहकारों के समर्थन से, अपने सभी लेनदारों के साथ जल्द से जल्द चर्चा में शामिल होने के लिए तैयार है।

लेबनानी कैबिनेट ने उप-प्रधानमंत्री साडे चामी के नेतृत्व में और वित्त मंत्री यूसुफ अल-खलील, अर्थव्यवस्था और व्यापार मंत्री अमीन सलाम और सेंट्रल बैंक के गवर्नर रियाद सलामेह के नेतृत्व में आईएमएफ के साथ बातचीत करने के लिए टीम का गठन किया है।

लेबनान एक अभूतपूर्व वित्तीय संकट से गुजर रहा है, जिसमें स्थानीय मुद्रा में 90 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई है, जिससे लोगों की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने की क्षमता सीमित हो गई है।

अक्टूबर 2019 के विद्रोह के बाद से देश की सामाजिक स्थिरता बिगड़ने लगी है, इसके साथ ही कोविड -19 का आर्थिक प्रभाव और अगस्त 2020 में बेरूत के घातक बंदरगाह का विस्फोट हुआ भी इसका एक बड़ा कारण है।

इसके अलावा, बहुत आवश्यक वित्तीय सुधारों को लागू करने के लिए एक प्रभावी सरकार बनाने में विफलता ने लेबनानी पाउंड के पतन और वार्षिक मुद्रास्फीति में 158 प्रतिशत की वृद्धि के साथ-साथ खाद्य मुद्रास्फीति में 550 प्रतिशत की वृद्धि के परिणामस्वरूप सामाजिक आर्थिक स्थिति में गिरावट को तेज कर दिया।

देश की गरीबी दर वर्तमान में 78 प्रतिशत से अधिक है।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस

Share this story