वाघा बॉर्डर के जरिए अफगानिस्तान भेजी जाने वाली गेहूं की खेप पर भारत को अपने फैसले से अवगत कराएगा पाकिस्तान

वाघा बॉर्डर के जरिए अफगानिस्तान भेजी जाने वाली गेहूं की खेप पर भारत को अपने फैसले से अवगत कराएगा पाकिस्तान
वाघा बॉर्डर के जरिए अफगानिस्तान भेजी जाने वाली गेहूं की खेप पर भारत को अपने फैसले से अवगत कराएगा पाकिस्तान नई दिल्ली, 18 नवंबर (आईएएनएस)। संबंधित अधिकारियों द्वारा जरूरी प्रक्रियाओं को अंतिम रूप दिए जाने के बाद पाकिस्तान जल्द ही भारत को गेहूं की खेप को वाघा सीमा से गुजरने की अनुमति देने के अपने फैसले से अवगत कराएगा, जो कि अफगानिस्तान भेजी जानी है।

पाकिस्तानी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने नाम न छापने का अनुरोध करते हुए द एक्सप्रेस ट्रिब्यून को बताया, जल्द ही निर्णय की घोषणा जल्द की जाएगी।

पिछले महीने, भारत ने मानवीय सहायता के रूप में अफगानिस्तान के लिए 50,000 मीट्रिक टन गेहूं भेजने की घोषणा की थी और पाकिस्तान से वाघा सीमा के माध्यम से खाद्यान्न भेजने का अनुरोध किया था।

वर्तमान में, पाकिस्तान केवल अफगानिस्तान को भारत को माल निर्यात करने की अनुमति देता है, लेकिन उसने फिलहाल सीमा पार से किसी अन्य दो-तरफा व्यापार की अनुमति नहीं दी है।

रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पिछले सप्ताह कार्यवाहक अफगान विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी से कहा था कि उनकी सरकार उन तौर-तरीकों पर काम करने के बाद मानवीय उद्देश्यों के लिए पाकिस्तान के माध्यम से भारत द्वारा दिए जाने वाले गेहूं के परिवहन के लिए अफगान बंधुओं के अनुरोध पर अनुकूल रूप से विचार करेगी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि मुत्ताकी ने यह सुझाव देते हुए कि तालिबान सरकार भारत से मानवीय सहायता स्वीकार करने को तैयार है, इमरान खान से अनुरोध किया था कि वह भारत को पाकिस्तान के रास्ते गेहूं ले जाने की अनुमति प्रदान करें।

अधिकारी ने स्पष्ट किया कि पाकिस्तान ने कभी नहीं कहा कि वह अपनी जमीन से गेहूं के परिवहन की अनुमति नहीं देगा। अधिकारी ने बताया कि देखने के लिए कई मुद्दे हैं, जैसे कि अफगान अंतरिम सरकार और रसद आदि का ²ष्टिकोण।

अधिकारी ने कहा, हमने तौर-तरीकों को लगभग अंतिम रूप दे दिया है और जल्द ही भारत को हमारे फैसले के बारे में बताया जाएगा।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Share this story