वीवो की जगह टाटा बना आईपीएल का मुख्य प्रायोजक

वीवो की जगह टाटा बना आईपीएल का मुख्य प्रायोजक
वीवो की जगह टाटा बना आईपीएल का मुख्य प्रायोजक नई दिल्ली, 11 जनवरी (आईएएनएस)। चीनी मोबाइल निमार्ता वीवो ने इस साल से इंडियन प्रीमियर लीग के टाइटल प्रायोजक के रूप में अपना हाथ खींच लिया है, जिसके बाद लीग की गवनिर्ंग काउंसिल ने मंगलवार को एक बैठक में बीसीसीआई ने टाटा को टाइटल स्पॉन्सर बनाने का फैसला किया।

गवनिर्ंग काउंसिल की बैठक के बाद आईपीएल के अध्यक्ष बृजेश पटेल ने पुष्टि की है कि भारत के सबसे बड़े व्यापारिक समूहों में से एक टाटा समूह लीग का हिस्सा बनेंगे।

पटेल ने क्रिकबज को बताया, वीवो के बाहर होने से टाटा टाइटल स्पॉन्सर होगा।

विशेष रूप से वीवो के पास लीग के साथ अपने प्रायोजन अनुबंध में कुछ साल बाकी हैं और इस अवधि के दौरान टाटा मुख्य प्रायोजक बना रहेगा। लीग को अब टाटा आईपीएल कहा जाएगा।

वीवो ने 2018-2022 तक टाइटल स्पॉन्सरशिप राइट्स के लिए 2200 करोड़ रुपये की डील की थी। हालांकि, चीनी स्मार्टफोन निमार्ताओं ने भारतीय सेना और चीनी सैनिकों के बीच गालवान घाटी में आमने-सामने होने के बाद 2020 में एक साल के लिए सौदे को रोक दिया था, जब यह अधिकार ड्रीम 11 को दिया गया था।

वीवो 2021 में आईपीएल टाइटल स्पॉन्सर के रूप में वापस आ गया था और एक साल के ब्रेक के कारण मूल पांच साल का सौदा 2023 तक बढ़ा दिया गया था। मंगलवार के बैठक के बाद, टाटा समूह को 2022 और 2023 सीजन के लिए मुख्य प्रायोजक बनाया गया है।

-- आईएएनएस

आरजे/आरजेएस

Share this story