संयुक्त राष्ट्र महिला प्रमुख : तालिबान अफगान महिलाओं के अधिकारों का सम्मान करें

संयुक्त राष्ट्र महिला प्रमुख : तालिबान अफगान महिलाओं के अधिकारों का सम्मान करें
संयुक्त राष्ट्र महिला प्रमुख : तालिबान अफगान महिलाओं के अधिकारों का सम्मान करें संयुक्त राष्ट्र, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र की एक उच्च पदस्थ अधिकारी ने अफगानिस्तान में तालिबान अधिकारियों से महिलाओं के अधिकारों का सम्मान करने का आह्वान किया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने संयुक्त राष्ट्र की प्रभारी अधिकारी प्रमिला पैटन के हवाले से कहा, महिलाओं को शांतिपूर्ण विरोध और हिंसा से मुक्त जीवन जीने का अधिकार है। अफगानिस्तान पर नियंत्रण करने के बाद, तालिबान अधिकारियों को इन अधिकारों का सम्मान करने और उनकी रक्षा करने का कर्तव्य निभाना चाहिए।

पैटन ने कहा, मैं अफगानिस्तान में महिलाओं की पिटाई की तस्वीरों से स्तब्ध और आक्रोशित हूं। उन्हें डंडों से मारा गया और शांतिपूर्ण विरोध के अपने अधिकार का प्रयोग करने के लिए पीटा गया। मैं उन सभी अफगान महिलाओं के साथ एकजुटता से खड़ी हूं जो अपने मौलिक अधिकारों, स्वतंत्रता और सम्मान के लिए लड़ रही हैं ।

उन्होंने कहा, मैं तालिबान से अफगानिस्तान में सभी महिलाओं और लड़कियों के पूर्ण अधिकारों को सुनिश्चित करने, उनके खिलाफ हिंसा के इस पूरी तरह से अस्वीकार्य सामान्यीकरण की तत्काल समाप्ति सुनिश्चित करने और इन उल्लंघनों की निगरानी और जांच करने के लिए अपने कर्तव्य का पालन करने का आह्वान करती हूं ताकि अपराधी जब भी और जहां भी ऐसी हिंसा करें उसके लिए उन्हें जवाबदेह ठहराया जाए।

उन्होंने आगे कहा, यह सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए कि महिलाएं अफगानिस्तान के सार्वजनिक और राजनीतिक जीवन में भागीदारी के अपने अधिकार का पूरी तरह, समान रूप से और सुरक्षित रूप से प्रयोग कर सकें।

--आईएएनएस

एसएस/आरएचए

Share this story