सीडब्ल्यूजी: भारतीय महिला टीम ने लॉन बॉल्स में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा

सीडब्ल्यूजी: भारतीय महिला टीम ने लॉन बॉल्स में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा
सीडब्ल्यूजी: भारतीय महिला टीम ने लॉन बॉल्स में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा बर्मिघम, 2 अगस्त (आईएएनएस)। लवली चौबे, पिंकी, नयनमोनी सैकिया और रूपा तिर्की की भारतीय महिला टीम ने मंगलवार को यहां राष्ट्रमंडल गेम्स 2022 में लॉन बॉल्स में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया।

रॉयल लीमिंगटन स्पा के विक्टोरिया पार्कमें भारतीय टीम ने फाइनल में दक्षिण अफ्रीका को 17-10 से हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

यह फाइनल के लिए एक समान शुरुआत थी, क्योंकि भारत ने पहले छोर के बाद बढ़त बना ली थी लेकिन दक्षिण अफ्रीका दूसरे छोर के बाद आगे बढ़ गया। इसके बाद फार्म में चल रही भारतीय टीम ने सातवें छोर तक 8-2 की बढ़त बना ली। लेकिन, यह अगले चार छोरों पर एक भी अंक नहीं बना सकी क्योंकि दक्षिण अफ्रीका ने 10वें छोर के बाद स्कोर को 8-8 से बराबर करते हुए शानदार वापसी की।

11वें छोर पर भारत की नयनमोनी सैकिया ने बेहतरीन गेंद फेंकर दक्षिण अफ्रीका से 10-8 की बढ़त ले ली।

भारत को 12वें छोर पर और मैदान गंवाने का खतरा था, लेकिन रूपा तिर्की दक्षिण अफ्रीकी की गेंद को दूर धकेलने में कामयाब रही, जिससे भारत को दो अंक मिले।

इसके बाद, 14वें छोर पर भारत ने 15-10 की बढ़त बना ली, क्योंकि दक्षिण अफ्रीका ने जैक के करीब पहुंचने या किसी भी भारतीय गेंद को दूर करने की कोशिश की और असफल रहा। दक्षिण अफ्रीका के निकटतम गेंद और भारत के सबसे दूर की गेंद के बीच की दूरी मुश्किल से कुछ सेंटीमीटर थी, लेकिन भारतीय गेंद को जैक के करीब माना गया, जिससे उन्हें तीन महत्वपूर्ण अंक मिले।

15वें और अंतिम छोर ने भारत की गेंद लगातार जैक के करीब रही और जब दक्षिण अफ्रीका का अंतिम गेंद जैक से चूक गया, तो इसने भारत को दो और अंक दिए और एक ऐतिहासिक स्वर्ण पदक की पुष्टि की।

दूसरी ओर, राष्ट्रमंडल गेम्स में दक्षिण अफ्रीका का यह लगातार दूसरा रजत पदक था।

--आईएएनएस

आरजे/एएनएम

Share this story