सीडब्ल्यूजी: भावना की नजरें अपने पहले राष्ट्रमंडल पदक पर

सीडब्ल्यूजी: भावना की नजरें अपने पहले राष्ट्रमंडल पदक पर
सीडब्ल्यूजी: भावना की नजरें अपने पहले राष्ट्रमंडल पदक पर बर्मिघम, 2 अगस्त (आईएएनएस)। टोक्यो 2020 पैरालंपिक पदक विजेता भावना पटेल बुधवार को बर्मिघम गेम्स 2022 में अपने अभियान की शुरुआत करेंगी। इसमें उनका लक्ष्य अपना पहला पदक जीतना होगा।

टोक्यो में पैरालंपिक खेलों में पदक जीतने वाली पहली भारतीय पैडलर बनकर इतिहास रचने वाली भावना 12 साल पहले राष्ट्रमंडल खेलों में पदक से चूक गई थीं।

पैरा टेबल टेनिस स्टार दिल्ली 2010 संस्करण में अपने पहले राष्ट्रमंडल खेलों में सेमीफाइनल में जगह बनाने से चूक गईं थीं। ग्लासगो में 2014 के खेलों में पैरा टेबल टेनिस शामिल नहीं था, जबकि गोल्ड कोस्ट में 2018 खेलों में कक्षा 6 से 10 श्रेणियों के लिए प्रतियोगिता थी।

इस बार भावना मानसिक और शारीरिक दोनों तरह से बेहतर तरीके से तैयार है और चुनौती के लिए फिट हैं।

भावना ने कहा, मैं राष्ट्रमंडल खेलों के लिए वास्तव में उत्साहित हूं। एक बहु-खेल आयोजन जहां एक ही स्थान पर विभिन्न खेलों के सभी एथलीट विशेष हैं। प्रत्येक पदक एक व्यक्तिगत उपलब्धि से कहीं अधिक मायने रखता है। यह मेरा दूसरा राष्ट्रमंडल गेम्स है। मैं पिछली बार पदक से चूक गई थी, इसलिए मेरा लक्ष्य इस बार जीतना है।

वह राष्ट्रीय चैंपियनशिप के अलावा मिस्र और जॉर्डन में अपने स्वर्ण पदक जीतने से ज्यादा उत्साहित राष्ट्रमंडल खेलों में प्रतिस्पर्धा करने को लेकर हैं। 35 वर्षीय पैडलर ने कहा, मैं इन जीत को पाकर खुश हूं, लेकिन मैं अपनी विश्व रैंकिंग में सुधार के लिए और अधिक टूर्नामेंट खेलना चाहती हूं।

--आईएएनएस

आरजे/एएनएम

Share this story