हमें अपनी योजनाओं को सही से लागू करना चाहिए : डीसी कोच वॉटसन

हमें अपनी योजनाओं को सही से लागू करना चाहिए : डीसी कोच वॉटसन
हमें अपनी योजनाओं को सही से लागू करना चाहिए : डीसी कोच वॉटसन नवी मुंबई, 10 मई (आईएएनएस)। पांचवें स्थान पर मौजूद दिल्ली कैपिटल्स बुधवार को यहां डीवाई पाटिल स्टेडियम में आईपीएल 2022 के 58वें मैच में तीसरे स्थान पर काबिज राजस्थान रॉयल्स से भिड़ेगी। उम्मीद जताई जा रही है कि वह अपना छठा मैच जीतकर प्लेऑफ की यात्रा को जारी रखेगी।

दिल्ली कैपिटल्स, सनराइजर्स हैदराबाद, कोलकाता नाइट राइडर्स और पंजाब किंग्स के साथ 10 अंकों के समान स्तर पर है, लेकिन उनका नेट रन रेट बेहतर है। ऋषभ पंत की टीम उस स्टेडियम में अपने आखिरी मैच में चेन्नई सुपर किंग्स से 91 रन से हारने के बाद वापसी करना चाहेगी।

दिल्ली को चार बार के चैंपियन ने बुरी तरह हराया था, जिन्होंने 20 ओवरों में 208/6 रन बनाए और फिर उन्हें 17.4 ओवर में 117 रन पर ऑलआउट कर दिया था।

भारी हार के बावजूद, दिल्ली कैपिटल्स के सहायक कोच शेन वॉटसन को वापसी का भरोसा है और उन्होंने कहा कि शीर्ष चार स्थानों की रेस में सफल होने के लिए उन्हें अपनी योजनाओं पर लगातार अमल करना होगा।

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच से पहले वॉटसन ने कहा कि उनका सामना कड़े प्रतिद्वंद्वी से होगा। दिल्ली जब आईपीएल 2022 में राजस्थान से पहली बार मिली थी तब उन्हें 15 रन से हार का सामना करना पड़ा था।

उन्होंने कहा, राजस्थान रॉयल्स अच्छा खेल रही है और वे पूरे टूर्नामेंट में लगातार जीत रहे हैं। जोस बटलर उनके लिए अविश्वसनीय रहे हैं और राजस्थान के पास रविचंद्रन अश्विन और युजवेंद्र चहल के रूप में विश्व स्तरीय स्पिनर हैं। रॉयल्स एक कठिन प्रतिद्वंद्वी होने जा रहे हैं।

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 91 रन की शर्मनाक हार के बारे में पूछे जाने पर वॉटसन ने कहा, सीएसके के खिलाफ हमारा पिछला मैच निश्चित रूप से सर्वश्रेष्ठ मैच नहीं था। सीएसके ने अविश्वसनीय रूप से अच्छी बल्लेबाजी की, ताकि वह अच्छे स्कोर हासिल कर सके, लेकिन उस दिन हमारी बल्लेबाजी अच्छी नहीं रही जिसके कारण हम हार गए।

ऑस्ट्रेलियाई ने आगे कहा, मुख्य कोच रिकी पोंटिंग ने हमेशा खिलाड़ियों को अपने पिछले मैच से सीखने के लिए कहा है, उन छोटी-छोटी चीजों के बारे में जानें जिन्हें वे व्यक्तिगत रूप से सुधार सकते हैं, और फिर अगले मैच में आगे बढ़ें। सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण बात यह है कि खिलाड़ियों को सीखते रहना चाहिए।

--आईएएनएस

आरजे/एसकेपी

Share this story