हिमपात की घटना पर घृणित टिप्पणी के लिए इमरान खान की खिंचाई

हिमपात की घटना पर घृणित टिप्पणी के लिए इमरान खान की खिंचाई
हिमपात की घटना पर घृणित टिप्पणी के लिए इमरान खान की खिंचाई नई दिल्ली, 9 जनवरी (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विपक्ष और देश के नागरिकों ने मुरी की घटना पर प्रधानमंत्री इमरान खान की प्रतिक्रिया के लिए उनकी आलोचना की है। घटना में 22 लोगों की मौत हो गई। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार लोगों ने उनकी गलतियों के लिए दूसरों को दोष देने की आदत के लिए इमरान खान की आलोचना की है।

शनिवार को एक ट्वीट में, खान ने कहा, मुरी में पर्यटकों की दुखद मौत से स्तब्ध (और) परेशान। भारी बर्फबारी (और) मौसम की स्थिति की जांच किए बिना (लोगों) की भीड़ ने जिला प्रशासन को तैयार होने का मौका नहीं दिया।

हालांकि, यह ट्वीट लोगों, विशेषकर विपक्ष को पसंद नहीं आया, क्योंकि उन्होंने उनकी असंवेदनशील और चौंकाने वाली प्रतिक्रिया के लिए उन्हें आड़े हाथों लिया।

पूर्व संसद सदस्य बुशरा गोहर ने प्रधानमंत्री से त्रासदी के पीड़ितों को दोष देना बंद करने का आग्रह किया। यह आपकी कठपुतली सरकार की लापरवाही, अक्षमता (और) कुप्रबंधन के कारण है।

अपने ट्विटर हैंडल पर पीएमएल-एन के उपाध्यक्ष परवेज रशीद ने खान से उनके क्रूर और बेवकूफ ट्वीट को वापस लेने की मांग की।

पीएमएल-एन के प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने लिखा , यह बयान (आपकी) उदासीनता, क्रूरता और अक्षमता की पराकाष्ठा है।

पत्रकार अब्सा कोमल ने लिखा: असंवेदनशील और चौंकाने वाली प्रतिक्रिया, यह आपके प्रशासन की विफलता है, इसे कम से कम स्वीकार करें! वे आसानी से निवारक उपाय कर सकते थे यह जानते हुए कि बड़ी संख्या में लोग र्मुी की ओर बढ़ रहे थे।

पीएमएल-एन के नेता अहसान इकबाल ने खान को घृणित व्यक्ति बताते हुए कहा कि पाकिस्तान मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (पीएमडी) ने 31 दिसंबर को भारी बर्फबारी के बारे में चेतावनी जारी की थी और सरकार में हर कोई सो रहा था।

--आईएएनएस

आरएचए/आरजेएस

Share this story