पंचकोषात्मक पद्धति के जरिए विद्यार्थी का सर्वांगीण विकास होता है:हेमचंद
 

All-round development of the student takes place through the Panchkoshtmak method: Hemchand
All-round development of the student takes place through the Panchkoshtmak method: Hemchand
हरदोई(अंबरीष कुमार सक्सेना) जनपद के पं बाबूराम त्रिवेदी सरस्वती शिशु मंदिर अल्लीपुर में विद्याभारती द्वारा आयोजित नवीन आचार्य प्रशिक्षण दिवस के सप्तम दिवस कार्यक्रम के प्रथम सत्र में क्षेत्रीय संगठन मंत्री विद्या भारती पूर्वी उत्तरप्रदेश हेमचंद ने सर्वांगीण समग्र विकास की कल्पना पर विस्तृत प्रकाश डाला और कहा पंचकोषात्मक पद्धति के जरिए विद्यार्थी का सर्वांगीण विकास होता है।

द्वितीय सत्र में श्रावस्ती संभाग कैलाश वर्मा के द्वारा प्रश्न पत्र निर्माण पर विस्तृत चर्चा की गई। शारीरिक का सत्र हुआ जो जिसमे मुख्य शिक्षक प्रांतीय शारीरिक प्रमुख के द्वारा ओम प्रकाश के द्वारा विधिवत शिक्षण कार्य  किया गया। 

जनपद के पं बाबूराम त्रिवेदी सरस्वती शिशु मंदिर अल्लीपुर में गुरुवार को विद्याभारती द्वारा आयोजित नवीन आचार्य प्रशिक्षण दिवस के सप्तम दिवस पर मुख्य अतिथियों का नवीन आचार्या बहनों के द्वारा मुख्य अतिथियों का तिलक बंधन लगाकर स्वागत किया गया। उसके उपरांत मुख्य अतिथियों के द्वारा मां सरस्वती जी की प्रतिमा के सम्मुख दीप प्रज्जवलन व पुष्पार्चन किया गया तथा वंदना का कार्यक्रम हुआ।

मंच संचालन श्रावस्ती संभाग कैलाश वर्मा के द्वारा किया गया तथा आये हुए मुख्य अतिथियों का परिचय प्रदेश निरीक्षक मिथिलेश अवस्थी के द्वारा किया गया। वंदना कार्यक्रम के पश्चात  क्षेत्रीय संगठन मंत्री विद्या भारती पूर्वी उत्तरप्रदेश हेमचंद का स्वागत सह मंत्री जन शिक्षा समिति कौशल किशोर वर्मा ने किया। संस्कृति बोध परियोजना प्रमुख राजकुमार का स्वागत लखनऊ संभाग के संभाग निरीक्षक श्याममनोहर शुक्ल के द्वारा किया गया।  इस मौके पर मुख्य रूप से उपाध्यक्ष उच्च शिक्षा विद्या भारती शीर्षेन्दुशील त्रिवेदी विपिन, सीतापुर संभाग निरीक्षक रणवीर सिंह, लखनऊ संभाग श्याममनोहर शुक्ल, साकेत संभाग मिथिलेश सिंह, व्यवस्था के आचार्य तथा नवीन आचार्य प्रशिक्षार्थी मौजूद रहे।

Share this story