1930 में आज ही के दिन अंग्रेजों के क्रूर नमक कानून के विरोध में गांधी जी ने साबरमती आश्रम से शुरुआत की 

अमृत महोत्सव, 15 अगस्त 2022 से 75 सप्ताह पूर्व शुरू हुआ है और 15 अगस्त 2023 तक चलेगा

Indian Prime Minister Narendra Modi ने साबरमती आश्रम में जाकर महात्मागांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। नरेंद्र मोदी ने विज़िटर्स बुक में लिखा कि के दौरान देश अपनी स्वतंत्रता के आंदोलन के हर पड़ाव हर, अहम क्षण को तो याद करेगा ही, भविष्य निर्माण के लिए नई उर्जा के साथ आगे भी बढ़ेगा| 

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम में निर्णायक भूमिका निभाने वाली यह यात्रा बदलाव की एक ऐसी बयार थी जिसने पूरे भारत में अंग्रेजों के विरुद्ध जन संघर्ष का व्यापक आंदोलन खड़ा कर देशभक्ति की एक नई गाथा लिख दी थी। देश उन सभी सत्याग्रहियों की राष्ट्रभक्ति और त्याग को कभी नहीं भूलेगा।

12 मार्च भारत के गौरवशाली इतिहास में एक विशेष दिन है।1930 में आज ही के दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने साबरमती आश्रम से अंग्रेजी सत्ता द्वारा लगाए गए नमक कानून के विरोध में पूरे देश को एकजुट कर #दांडी नमक सत्याग्रह की शुरुआत की थी और ब्रिटिश हुकूमत को सीधी चुनौती दी थी।

          

Share this story