Top
Aap Ki Khabar

Dark mode vs light mode battery: इस मोड से आंख और बैटरी दोनों सुरक्षित

Why is dark mode popular: आंखों की सुरक्षा के लिए सबसे बेहतर और सुरक्षित मोड डार्क मोड साबित होता है।

Dark mode vs light mode battery: इस मोड से आंख और बैटरी दोनों सुरक्षित
X

Dark mode vs light mode battery: अगर सुरक्षा के लिहाज से देखा जाये तो दोनों में से कोई भी सुरक्षित नही है, क्योंकि दिन के मुकाबले रात में अधिक देर रात तक मोबाइल चलाने से आंख की रोशनी पर इसका प्रभाव पड़ता है। फिर चाहे डार्क मोड हो या लाइट। बस डार्क मोड में फर्क यह होता है की ब्राइट लाइट होने की जगह आपके मोबाइल की लाइट लो और डार्क हो जाती है, जिससे अधिक रोशनी आपकी आँखों में नही जाती लेकिन फिर भी इसका असर आपकी आँखों पर पड़ता है।

डार्क मोड में होते ही बैकग्राउंड ब्लैक रंग में नज़र आएगा जिससे की चैट के दौरान यूजर के आंखों को परेशानी या कह लें कि तनाव नहीं होता। इसके अलावा डार्क मोड का एक फायदा और भी है, यह स्मार्टफोन की बैटरी बचाने में भी मदद करता है।

Dark Mode को हम Night Mode भी कह सकते हैं, इसका प्रयोग रात के समय किसी एप्प पर काम करने के लिए किया जाता है। यह एक ऐसी फीचर है जिसे Enable करने के बाद एप्लीकेशन का पूरा बैकग्राउंड कलर Black Colour में बदल जाता है, जिससे आपकी आंखों पर रोशनी का प्रभाव कम पड़ता है।

Is light or dark background better for eyes: साथ ही डार्क मोड आपके Device की Battery को भी कम खपत होने में मदद करता है। डार्क मोड को हम सरल भाषा मे Black Background वाली स्क्रीन भी कह सकते है। Dark Screen के साथ काम करने में आपको comfortable feel होगा।

इंटरनेट की बढ़ती दुनिया में डार्क मोड एक बहुत ही अच्छा Feature है जिसे भरी मात्रा में लोग पसंद करते हैं। यदि हम Dark mode के फायदे की बात करे तो इसके बहुत सारे फायदे हैं...

Device Brighness कम रहती है।

आँखों के लिए फायदेमंद है।

Device Battery कम खपत होती है।

सभी कंटेंट Clear दिखाई देते हैं।

डार्क मोड पर काम करने से यूजर को थकान नहीं होती है।

Why is dark mode popular: आंखों की सुरक्षा के लिए सबसे बेहतर और सुरक्षित मोड डार्क मोड साबित होता है। आंखों की सुरक्षा की दृष्टि से बीते कुछ वक्त से डार्क मोड काफी ट्रेडिंग फीचर बन गया है।

दरअसल, डार्क मोड की मदद से ना सिर्फ बैटरी की बचत होती है, बल्कि आंखों के लिए भी यह आरामदायक होता है और ज्यादा देर तक स्क्रीन देखने से थकान भी नहीं होती।

Dark mode Android: परंतु यदि आप लगातार डार्क मोड पर ही आंखों को रखते हैं तो यह आपकी आंखों के लिए हानिकारक भी साबित हो सकता है।

ऐसे में यदि आप अपनी आंखों पर डार्क मोड की वजह से अगर कोई नुकसान नहीं होने देना चाहते हैं तो आपको डार्क मोड और लाइट मोड दोनों को बीच-बीच में स्विच करते रहना चाहिए, जहां तक संभव हो स्मार्टफोन के डिस्प्ले की ब्राइटनेस कम ही रखना चाहिए।







आप अपनी आंखों की सुरक्षा के लिए दिन में लाइट मोड का इस्तेमाल करें और रात में डार्क मोड का इस्तेमाल करना ठीक रहेगा।

इसके अलावा एक और मोड होता है जिसे नाइट मोड कहते हैं इसके फीचर थोड़े अलग होते हैं।

नाईट मोड

Is night mode good for eyes: इस मोड को समझने के लिए हमको एक विज्ञान को समझने की जरूरत होगी।

क्या आप जानते हैं कि हम दिन में क्यों जागते ही और रात में क्यों सोते हैं?

दरअसल इसके वैज्ञानिक कारण से ही हमें night mode की जरूरत पड़ी। दिन के समय सूर्य का प्रकाश के रूप में हम विभिन्न रंगो को देखते हैं लेकिन नीला रंग हमारे मस्तिष्क को जागने के लिए प्रेरित करता है। रात में सूर्य का प्रकाश हम तक नहीं पहुंचता है, तो नीला प्रकाश भी हमारी आंखों तक नहीं पहुंच पाता है। इसलिए हमें रात में नींद आती है।

तो अब आते हैं नाईट मोड पर -

जब हम रात में स्मार्टफोन प्रयोग करते हैं तो उसकी स्क्रीन से कई रंगों का प्रकाश हमारी आंखों तक पहुंचता है।

इन विभिन्न रंगों में नीला रंग भी हमारी आंखों तक पहुंचता है जिससे हमारा मस्तिष्क नीले रंग से जागने को प्रेरित हो जाता है।

इसी कारण जब हम रात में स्मार्टफोन का प्रयोग करते हैं, हमें नींद नहीं आती है।

नाईट मोड को चालू करने पर आपकी स्क्रीन से नीले रंग के प्रकाश को रोक लिया जाता है और बाकी प्रकाश को आपकी आंखों तक पहुंचने दिया जाता है।

इस कारण नाईट मोड का प्रयोग करने से आपके नींद पर कोई फर्क नहीं पड़ता है।

Next Story
Share it