भीष्म पितामह हो गए थे अमर चित्रगुप्त भगवान ने दिया था वरदान 

चित्रगुप्त भगवान
 भीष्म पितामह को अमरता का वरदान दिया था भगवान चित्रगुप्त ने 

आज के दिन चित्रगुप्त भगवान की पूजा करनेके पीछे उद्देश्य यह है कि आज के दिन ही भीष्म द्वारा अमर रहने का वरदान दिया था ।
चित्रगुप्त भगवान के ही हाथ मे मंनुष्य के प्राणों की कुंजी होती है इसलिए चित्रगुप्त भगवान की जिसने भी पूजा की उन्हें माना जाता है कि कभी अकाल मृत्यु नही होती है ।
ज्यादा जानने के लिए देखिये यह वीडियो

Share this story