aapkikhabar aapkikhabar

क्‍या होता है जब Body के किसी अंग पर गिरती है छिपकली



क्‍या होता है जब Body के किसी अंग पर गिरती है छिपकली

क्‍या होता है जब Body के किसी अंग पर गिरती है छिपकली

 छिपकली अगर Body पर गिरना वैज्ञानिक दृष्टिकोण से भी यह साबित होता है कि छिपकली का Body पर गिरना खतरनाक है।


डेस्क- छिपकली अगर Body पर गिर जाए तो तुरंत स्नान कर लेना चाहिए अन्यथा अनहोनी घटनाओं का सामना करना पड़ता है।

 

घर की दीवारों पर छिपकली दिखना आम बात है। कभी कभी यह अचानक दीवार से गिर भी जाती है। संयोगवश अगर यह आपके  Body  र गिर जाए तो कई तरह की आशंकाएं मन में उठने लगती है।

 बड़े-बुजुर्गों का ऐसा कहना उचित भी है क्योंकि वैज्ञानिक दृष्टिकोण से भी यह साबित होता है कि छिपकली का शरीर पर गिरना खतरनाक है। इससे रोग की संभावना रहती है। इसका कारण यह है कि छिपकली ‘काडेर्टा समूह ‘ के ‘फाइलम ‘ वर्ग की जीव है। इस वर्ग के कुछ जीव अपने शरीर में बने जहर (यूरिक एसिड) को अपनी चमड़ी पर जमा कर लेते हैं। इस वजह से यह सुरक्षित भी रहते हैं।

 

 Body  के किसी भी अंग पर गिरने से शुभ व अशुभ होता है 

 

छिपकली का इंसान के ऊपर गिरना शुभ नहीं माना जाता है, वहीं शास्त्रों में छिपकली से जुड़े शकुन-अपशकुनों के बारे में बताया गया है। ये माना जाता है कि इंसान के शरीर के कुछ हिस्सों पर छिपकली के गिरने से शुभ फल की प्राप्ति होती है, वहीं कुछ हिस्सों पर छिपकली का गिरना परेशानियां लेकर आता है। मुहूर्त मार्तण्ड के अनुसार छिपकली का स्त्री-पुरूष के किसी भी अंग पर गिरने से शुभ व अशुभ दोनों प्रकार फल मिलते है। पेट, नाभि, छाती व दाढ़ी को छोड़कर उसके उपर मस्तक पर्यन्त किसी भी भाग पर छिपकली का गिरना सामान्यतः शुभ होता है। 

 

इन अंगों के सिवा पुरूष के अन्यान्य दाहिने अंगो पर एंव स्त्री के दॉये अंगों पर छिपकली का गिरना प्रायः अशुभ माना जाता है। 

 

ज्‍योतिष कहते हैं कि पुरुषों के बायें अंगों एवं स्त्रियों के दाहिने अंगों पर छिपकली गिरना अशुभ होता है। तथा पुरुष के दाहिने अंगों पर एवं स्‍त्री के बायें अंगों पर गिरना शुभ माना जाता है। ऐसी अवस्‍था में उस स्‍थान को पानी से धो लेना चाहिये अगर हो सके तो स्‍नान कर लें, क्‍योंकि छिपकली की त्‍वचा से निकलने वाला पसीना जहर के समान होता है।

 

छिपकली का गिरना के अशुभ संकेत


  • बालों पर छिपकली का गिरना मृत्यु का सूचक माना जाता है।

  • यदि छिपकली बायीं आंख पर गिर जाये तो भविष्य में बहुत बड़ी हानि हो सकती है। वही अगर बायीं हथेली पर छिपकली गिरे तो भी धन की हानि होती है।

  • यदि छिपकली किसी के चेहरे के भोहों पर गिरती है तो इसे अच्छा नहीं माना जाता है कहा जाता है कि इससे धन की कमी होती है।

  • छिपकली का सर पर गिरना अच्छा नहीं मानते, जिस व्यक्ति के सिर पर छिपकली गिरती है तो उसका किसी से झगड़ा या विवाद होने की संभावना होती है। साथ ही कई बार ये बीमारियों का संकेत भी होता है।

  • दाढ़ी पर छिपकली गिरने से भयानक संकट का सामना करना पड़ सकता है।

  • बाए कंधे पर गिरने से नए शत्रु बनते है।

  • बाए हाँथ पर गिरने से धन की हानि होती है।

  • छिपकली के पीठ के बीच गिरने से घर में क्लेश उत्पन्न होता है।

  • बाए जांघ पर गिरने से दुःख मिलता है।

  • बाए घुटने पर गिरने से सौभाग्य की हानि होती है। बाए पैर पर गिरने से घर में कलह और दुःख होगा।


छिपकली का गिरना के शुभ संकेत


  • यदि छिपकली किसी के पेट, छाती या नाभि पर गिरती है तो इसे शुभ माना जाता है।

  • इसके अलावा पुरुष के शरीर के सीधे अंग और महिला के उल्टे अंग पर छिपकली का गिरना भी शुभ माना जाता है।

  • अगर छिपकली किसी व्यक्ति की गर्दन पर गिरती है तो ये व्यक्ति की प्रतिष्ठा में वृद्धि का इशारा माना जाता है।

  • छिपकली का दायें पैर के तलवे पर गिरने से व्यक्ति को ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।

  • छिपकली यदि माथे पर गिरती है तो किसी बड़ी संपत्ति आने के संकेत होते है।

  • छिपकली के दाहिने कान पर गिरने से स्वर्ण भूषणो की प्राप्ति होती है और बाएं कान पर गिरने से आयु में वृद्धि होती है।

  • छिपकली यदि दायी आंख पर गिरे तो किसी अच्छे मित्र से मिलने की सम्भावना होती है।

  • मुख पर यदि छिपकली गिरे तो स्वादिष्ट भोजन की प्राप्ति होती है।

  • बाए गाल पर गिरने से किसी पुराने मित्र से मिलने की सम्भावना होती है जबकि यदि दाहिने गाल पर गिरे तो उम्र बढ़ती है।

  • छिपकली यदि मूंछ पर गिरे तो आपको सम्मान मिलता है।

  • छिपकली के दाहिने कंधे पर गिरने से युद्ध में विजय प्राप्त होती है।

  • छिपकली के दाहिने हाँथ पर गिरने से धन लाभ होता है।

  • तथा दहिनी हथेली पर गिरने से नए वस्त्र मिलते है।

  • छिपकली के दायी जांघ पर गिरने से सुख प्राप्त होता है।


10 जुलाई 2018 से Dev Guru वृहस्पति होंगें मार्गी


Body  पर छिपकली गिरने के अन्य संकेत


  • छिपकली का नाक पर गिरना दर्शाता है कि शीघ्र ही आपका भाग्य बदलने वाला है।

  • छिपकली का कंठ पर गिरना तभी संभव है जब आप सो रहे हो, ऐसा होने पर माना जाता है कि आपके दुश्मनों का नाश होने वाला है।

  • अगर आपके दाये हाथ की भुजा पर छिपकली गिरती है तो समझा लीजिये आप धन से मालामाल होने वाले है।

  • लेकिन ऐसा बाये भुजा पर हो तो आपकी सम्पत्ति छिन सकती है।

  • दाये पैर के घुटने पर अगर छिपकली गिरे तो समझिये यात्रा का संयोग बन रहा है और अगर बाएं पैर के घुटने पर गिरे तो बुद्धि की हानि होने वाली है। 


सपने में छिपकली देखना


  • छिपकली के शरीर के किसी अंग पर गिरने से क्या शुभ और अशुभ फल प्रपात होते है यह तो आपने जान लिया लेकिन क्या आप जानते है सपने में छिपकली देखना भी कुछ संकेतों को दर्शाता है।

  • सपनों का मतलब जानने के लिए आगे पढ़े।

  • अगर आप सपने में किसी छिपकली को दीवार, जमीन या किसी वस्तु पर रेंगते हुए देखते है तो इसका मतलब है कि कोई चारों तरह से छुपकर आपकी प्रतिक्रियाओं पर नजर रखे हुए है।

  • सपने में अगर छिपकली बिलकुल चुपचाप बिना किसी हरकत के बैठी दिखाई दे तो समझ जाएं आपके साथ किसी तरह की दुर्घटना ग्रस्त हो सकती है।

  • यदि छिपकली स्वप्नं में किसी कीड़े या किट पर झपट्टा मारते हुए दिखे तो आपके घर में चोरी होने की संभावना रहती है।

  • अगर आप सपने में छिपकली को पकड़ने की कोशिश कर रहे है तो आप किसी भी डर पर काबू पा सकते है।

  • छिपकली को अगर डरकर भागते हुए आप देखते है तो यह सपना आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता है।

  • अक्सर ऐसा होता है कि अचानक कुछ आकर अमर शरीर के किसी अंग पर गिर जाता है।

  • ऐसे ही कभी न कभी आपके साथ हुआ होगा जब कोई छिपकली आपके ऊपर अचानक आकर गिरी होगी।

  • छिपकली का हमारे शरीर पर गिरना क्या संकेत लेकर आता है।

  • इस विषय में आज हमने आपको विस्तार से जानकारी दी है।

  • साथ ही बताया कि सपने में अगर छिपकली दिखाई देती है तो उसके क्या मायने होते है।   


छिपकली का गिरना के प्रभाव


  • छिपकली अगर माथे पर गिरती है तो संपत्ति मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

  • यदि छिपकली आपके बालों पर गिरती है, इसका मतलब मृत्‍यु सामने खड़ी है।

  • दाहिने कान पर छिपकली का गिरना यानी आभूषण की प्राप्ति होगी

  • बायें कान पर छिपकली का गिरना यानी आयु वृद्धि

  • नाक पर छिपकली गिरना यानी जल्‍द ही भाग्‍योदय होगा।

  • मुख पर छिपकली गिरना यानी मधुर भोजन की प्राप्ति होगी।

  • बायें गाल पर छिपकली गिरना यानी पुराने मित्र से मुलाकात होगी

  • दाहिने गाल पर छिपकली गिरना यानी आपकी उम्र बढ़ेगी।

  • गर्दन पर छिपकली गिरने का मतलब यश की प्राप्ति होगी

  • दाढ़ी पर छिपकली गिरने का मतलब आपके सामने जल्‍द ही कोई भयावह घटना हो सकती है।

  • मूंछ पर छिपकली गिरना यानी सम्‍मान की प्राप्ति।

  • भौंह पर छिपकली गिरना यानी धन हानि।

  • दाहिनी आंख पर छिपकली गिरने का मतलब किसी दोस्‍त से मुलाकात होगी।

  • बायीं आंख पर छिपकली गिरने का मतलब जल्‍द ही कोई बड़ी हानि होगी।

  • कंठ पर छिपकली गिरने का मतलब शत्रुओं का नाश होगा।

  • पीठ पर बीच में अगर छिपकली गिरती है तो घर में कलह होती है

  • पीठ पर दा‍हिनी ओर छिपकली गिरना यानी सुख की प्राप्ति होगी

  • पीठ पर बायीं तरफ छिपकली गिरने का मतलब रोग दस्‍तक दे सकता है।

  • दाहिने कंधे पर छिपकली गिरने पर विजय की प्राप्ति होती है।

  • बायें कंधे पर अगर छिपकली गिरे तो नये शत्रु बनते हैं

  • दाहिनी भुजा पर छिपकली गिरे तो धन लाभ मिलता है

  • बायीं भुजा पर छिपकली गिरने से संपत्ति छिनने की आशंका बढ़ती है।

  • दाहिनी हथेली पर छिपकली गिरने से कपड़े मिलते हैं।

  • बायीं हथेली पर छिपकली गिरने पर धन की हानि होती है।

  • दाहिने स्‍तन पर छिपकली गिरना यानी जल्‍द ही ढेर सारी खुशियां आयेंगी।

  • बायें स्‍तन पर छिपकली गिरने का मतलब घर में अत्‍याधिक क्‍लेश होगा।

  • पेट पर छिपकली गिरने का मतलब अभूषण मिलेंगे।

  • कमर के बीच में अगर छिपकली गिरे तो आर्थिक लाभ मिलते हैं

  • नाभि पर छिपकली गिरे यानी आपकी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी।

  • दाहिनी जांघ पर छिपकली गिरना यानी सुख की प्राप्ति।

  • बायीं जांघ पर छिपकली गिरना यानी दु:ख ही दु:ख एवं शारीरिक पीड़ा।

  • दाहिने घुटने पर छिपकली गिरना यानी यात्रा का संयोग बनेगा।

  • बायें घुटने पर छिपकली गिरने का मतलब बुद्धि हानि।

  • दाहिने पैर पर छिपकली गिरना यानी यात्रा से लाभ मिलेगा

  • बायें पैर पर छिपकली गिरना यानी बीमारी लगेगी या घर में कलह होगी। दु:ख मिलेगा।

  • दायें पैर के तलवे पर छिपकली गिरने का मतलब ऐश्‍वर्य की प्राप्ति होगी।

  • बायें पैर के तलवे पर छिपकली गिरने का मतलब व्‍यापार में हानि होगी।

  • यदि छिपकली मस्तक पर गिरे तो- राज्य लाभ होता है। 

  • केशो पर छिपकली गिरने से-मरण कष्ट होता है। 

  • नासिका पर गिरने से-सौभाग्य लाभ होता है। 

  • बॉया गाल पर छिपकली गिरने से-किसी भी प्रकार की हानि होती है।  

  • गर्दन पर छिपकली गिरे तो-यश व लाभ मिलता है। 

  • अगर भौंह पर छिपकली गिरे तो-धन हानि होती है। 

  • पीठ के दाहिने हिस्से पर छिपकली गिरने से-सुख व संसाधनों में वृद्धि होती है। 

  • दॉयी भुजा पर छिपकली गिरने पर-धन का लाभ होता है। 

  • बॉयी हथेली पर गिरने से-धन की हानि होती है।

  • अपने प्रिय से मिलन होता है बॉये पैर गिरने से-ह्रदय वेदना होती है। 

  • बॉये स्तन पर गिरने से-हार्दिक क्लेश होता है। 

  • यदि पेट पर छिपकली गिरे तो समझो-आभूषण की खरीददारी हो सकती है। 

  • कमर पर गिरने से-धन में वृद्धि होती है। 

  • दॉये घुटने पर अगर छिपकली गिरे तो-अपने प्रिय से मिलन होता है। 

  • दॉहिने पैर की ऐड़ी पर छिपकली गिरने से-दुःखद घटना का समाचार मिलता है। 

  • दॉये कान पर छिपकली गिरने से-आभूषण की प्राप्ति होती है। 

  • छिपकली गिरने से-आयु में वृद्धि यदि मुख पर छिपकली गिरे तो-स्वादिष्ट भोजन की प्राप्ति होती है। 

  • दॉहिने गाल पर छिपकली गिरने से-आयु में वृद्धि होती है। 

  • बॉये नेत्र पर छिपकली गिरने से-रोग में वृद्धि व भय बना रहता है। 

  • अगर दाहिने कन्धे पर छिपकली गिरे तो-कार्यो में विजय होती है। 

  • बॉयी भुजा पर छिपकली गिरने से-धनहानि व राज भय बना रहता है। 

  •  यदि ह्रदय पर छिपकली गिरे तो-सुख व भाग्य में वृद्धि होती है।

  •  नाभि पर छिपकली गिरने से-मनोकामना सिद्धि होती है। 

  • दाहिने जॉघ पर छिपकली गिरने से-सुख व समृद्धि आती है। 

  • गले पर छिपकली गिरने से-धन-धान्य में वृद्धि होती है।

  •  मॅूछ पर छिपकली गिरने से-सम्मान मिलता है। 

  • छिपकली गिरने से-नयें कपड़ो को खरीददारी 

  • दाहिने नेत्र पर छिपकली गिरने से-बन्धु-बान्धवों से मिलन होता है। 

  • पीठ के मध्य में छिपकली गिरने से-घर में कलह होती है। 

  • दॉयी हथेली पर छिपकली गिरने से-नयें कपड़ो को खरीददारी होती है या फिर वस्त्र लाभ होता है। 

  • दॉये स्तन पर छिपकली गिरने से-स्त्रियों को मनोरंजन करने के अवसर मिलते है।

  • दॉये पैर पर छिपकली गिरने से-यात्रा करने के अवसर मिलते है।


पंडित दयानन्द शास्त्री


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के