aapkikhabar aapkikhabar

Battle of Budgam Day पर शहीद हुए थे मेजर सोमनाथ शर्मा



Battle of Budgam Day पर शहीद हुए थे मेजर सोमनाथ शर्मा

Major Somnath Sharma

मेजर सोमनाथ शर्मा Battle of Budgam Day 3 नवंबर 1947 को पाकिस्तानी सैनिकों लड़ाई में शहीद हुए थे


जम्मूकश्मीर- भारतीय सेना ने मेजर सोमनाथ शर्मा को 72 वें "Battle of Budgam Day" पर श्रद्धांजलि अर्पित की। वह परम वीर चक्र के पहले प्राप्तकर्ता थे, उन्होंने श्रीनगर हवाई अड्डे पर हमला करते हुए 3 नवंबर 1947 को पाकिस्तानी सैनिकों से लड़ने पर अपना जीवन खो दिया।


मेजर सोमनाथ शर्मा का जन्म 31 जनवरी, 1923 को जम्मू में हुआ था। इनके पिता मेजर अमरनाथ शर्मा भी सेना में डॉक्टर थे और आर्मी मेडिकल सर्विस के डायरेक्टर जनरल के पद से सेवामुक्त हुए थे। मेजर सोमनाथ की शुरुआती स्कूली शिक्षा अलग-अलग जगह होती रही |


जहाँ इनके पिता की पोस्टिंग होती थी। लेकिन बाद में उनकी पढ़ाई शेरवुडा, नैनीताल में हुई। मेजर सोमनाथ बचपन से ही खेल कूद तथा एथलेटिक्स में रुचि रखते थे।मेजर सोमनाथ का कीर्तिमान एक गौरव की बात भले ही हो उसे आश्चर्यजनक इसलिए नहीं माना जा सकता क्योंकि उनके परिवार में फौजी संस्कृति एक परम्परा के रूप में चलती रही थी।


इसे भी पढ़े -Health के लिए फायदेमंद होता है मूंगफली जाने कैसे


इसे भी पढ़े-INDvsWI कल से शुरू होगा India और West Indies का पहला T20 मुकाबला



  • इनके पिता यदि चाहते तो एक डॉक्टर के रूप में लाहौर में अपनी प्रैक्टिस जमा सकते थे

  • किंतु उन्होंने इच्छापूर्वक भारतीय सेनिकों की सेवा करना चुना।

  • पिता के अतिरिक्त मेजर सोमनाथ पर अपने मामा की गहरी छाप पड़ी।

  • उनके मामा लैफ्टिनेंट किशनदत्त वासुदेव 4/19 हैदराबादी बटालियन में थे

  • तथा 1942 में मलाया में जापानियों से लड़ते शहीद हुए थे।



 


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के