aapkikhabar aapkikhabar

Deepika Ranveer Wedding: 4 फेरों की सिंधी शादी में दीपिका हुई रणवीर की



Deepika Ranveer Wedding: 4 फेरों की सिंधी शादी में दीपिका हुई रणवीर की

Deepika Ranveer

  Deepika Ranveer दोनों ने कोंकणी रीति रिवाज से 14 नवम्बर शादी की रस्में पूरी की है।


डेस्क-आज गुरुवार को  Deepika Ranveer  सिंधी रीति-रिवाज से शादी रचा रहे हैं| इससे पहले दीपिका रणवीर बुधवार को इटली के लेक कोमो में कोंकणी रिती-रिवाज से शादी कर चुके हैं| 


आइए जानते हैं सिंधी रीति-रिवाज से शादी में क्या  होती हैं रस्में



नवग्रह पूजा



  • यह पूजा शादी की सुबह की जाती है.

  • पुजारी विभिन्न देवी-देवताओं और नौ ग्रहों की प्रार्थना करवाते हैं.

  • यह पूजा ग्रह-नक्षत्र को शुभ बनाने के लिए की जाती है ताकि शादीशुदा जीवन में किसी भी तरह की समस्याएं ना हों और शादी में भी कोई विघ्न पैदा ना हो.


हल्दी-



  • दूल्हे और दुल्हन को उनके घरों में हल्दी लगाई जाती है.

  • उनके बालों में तेल लगाया जाता है और उसके बाद स्नान भी करवाया जाता है



सांथ प्रथा



  • सिंधी शादी में ‘सांथ प्रथा’ भी एक शरारत भरी रस्म भी होती है.

  • इस रस्म में दूल्हे को उसके दोस्त दूल्हे के सिर में तेल लगाते हैं.

  • इसके बाद दूल्हे के दाएं पैर में जूता पहनाते हैं और मिट्टी के एक मटके को फोड़ने के लिए कहा जाता है.

  • मटके फूटने के बाद दूल्हे के भाई-दोस्त मिलकर दूल्हे के कपड़े फाड़ देते हैं. 



गारो धागो-



  • दूल्हे और दुल्हन अपने-अपने पूर्वजों को याद करते हैं और उनसे प्रार्थना करते हैं.

  • दूल्हे और दुल्हन की कलाई पर लाल धागा बांधा जाता है.


बारात



  • दूल्हे के घर से बारात निकलती है.

  • दोस्त और रिश्तेदार नाचते और गाते हुए शादी के वेन्यू तक पहुंचते हैं.



जयमाला



  • बारात के पहुंचने पर दुल्हन के घर वाले बारातियों का स्वागत करते हैं|

  • इसके बाद दूल्हे और दुल्हन मंडप तक पहुंचते हैं और 3 बार वरमालाएं एक-दूसरे को पहनाते हैं|



पल्ली पल्लो



  • दूल्हन के दुपट्टे के एक छोर को दूल्हे के शेरवानी दुपट्टे से बांध दिया जाता है|

  • चावल के साथ एक गांठ बांध दी जाती है|



हथियालो



  • दूल्हे और दुल्हन को दाएं हाथ को एक लाल रंग के कपड़े से बांध दिया जाता है|

  • इसके बाद जोड़ा भगवान से खुशहाल शादीशुदा जिंदगी के लिए प्रार्थना करता है|



कन्यादान



  • लड़की का पिता आधिकारिक तौर पर अपनी बेटी दूल्हे को सौंप देता है और अपनी बेटी की हमेशा देखभाल करने के लिए अनुरोध करता है.

  • कपल के हाथों पर जल भी डाला जाता है|


फेरे-



  • पवित्र अग्नि के सामने पूजा की जाती है. मंत्रोच्चार के साथ अग्नि में होम किया जाता है. इसके बाद पुजारी जोड़े से चार फेरे लेने के लिए कहता है|

  • पहले 3 फेरों में दुल्हन और आखिरी फेरे में दूल्हा आगे चलता है|

  • हर एक फेरे के बाद पुजारी जोड़े को शादी की प्रतिज्ञाएं दिलवाते हैं. कपल शादी की सारी प्रतिज्ञाएं दोहराते हैं और पूरी जिंदगी प्यार और सम्मान के साथ जीने का संकल्प लेते हैं.


सप्तपदी-


जोड़े के सामने चावल के 7 ढेर बनाए जाते हैं. दुल्हन चावल के इन ढेरों पर चलती है जिसमें दूल्हा उसकी मदद करता है. इस रस्म में चावल के ढेर का प्रतीकात्मक अर्थ भविष्य में आने वाली चुनौतियां है और साथ-साथ 7 कदम उनके शादीशुदा जिंदगी के सफर की शुरुआत को दिखाते हैं जिसमें वे हमेशा एक-दूसरे के साथ रहेंगे.


मुंबई में होगा रिसेप्शन का आयोजन



  • रिसेप्शन का आयोजन मुंबई में होगा जो कि 28 नवंवर को मुंबई के एक होटल में किया जाएगा।

  • इससे पहले एक वेडिंग रिसेप्शन बेंगलुरु में भी होगा जो कि 21 नवंबर को रहेगा.

  • इस रिसेप्शन में ही पहली बार Deepika Ranveer  बतौर कपल अपनी पहली अपीयरेंस देंगे। चूंकि दीपिका बेंगलुरु से हैं तो यह आयोजन खास तौर से वहीं होगा|


Deepika Padukone और Ranveer Singh की 2 अलग-अलग रीति-रिवाजों से होगी शादी


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के