सवायजपुर विधानसभा में 1 करोड 91 लाख की परियोजना मंजूर

01 करोड़ 18 लाख से होगा गौ सरंक्षण केंद्र का निर्माण
हरदोई  (अंबरीष कुमार सक्सेना) सवायजपुर विधानसभा क्षेत्र में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था और किसान को खुशहाल बनाने की दिशा में विधायक श्री माधवेंद्र प्रताप सिंह रानू के प्रयास रंग ला रहे है। पांच नदियों से घिरे क्षेत्र में सामुदायिक स्वास्थ्य  केंद्रों पर आने वाले मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकें इसके लिए विधायक श्री रानू जी के प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के तहत सीएचसी सवायजपुर और सीएचसी हरपालपुर पर ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट की स्थापना के लिए शासन से बजट जारी होकर टेंडर प्रक्रिया शुरू हो गई है। साथ ही विकास खंड हरपालपुर की ग्राम पंचायत बर्रा में किसानों की फसल और गौवंशों की सुरक्षा के लिए गौ सरंक्षण केंद्र के लिए भी बजट जारी हो गया है।

75 लाख से बनेंगे दो बीपीएच यूनिट || 01 करोड़ 18 लाख से होगा गौ सरंक्षण केंद्र का निर्माण

सवायजपुर और हरपालपुर सीएचसी पर पब्लिक हेल्थ यूनिट और ग्राम बर्रा में गौ सरंक्षण केंद्र की स्थापना के लिए उ. प्र.राज्य निर्माण एवं श्रम विकास सहकारी संघ लिमिटेड लखनऊ को कार्यदायी संस्था के रूप में नामित किया गया है। प्रत्येक ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट के लिए 36 लाख 47 हजार के हिसाब से कुल 72 लाख 94 हजार रुपए और गौ सरंक्षण केंद्र के निर्माण के लिए 1 करोड़  18 लाख 29 हजार रुपए शासन ने अवमुक्त कर दिए है।


ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट में मरीजों को प्राथमिक स्तर का इलाज मिल सकेगा जिसके लिए अलग से डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ की व्यवस्था होगी जो सामान्य बीमारी से पीड़ितों को इलाज मुहैया कराएंगे। इन केंद्रों पर दवा, पैथोलॉजी और दूसरी जांच की सुविधा उपलब्ध होगी। यहां टीकाकरण के साथ नियमित चलने वाले स्वास्थ्य कार्यक्रम और ब्लड की जरूरी जांचे निशुल्क मरीजों को उपलब्ध होंगी। पिछड़े क्षेत्र के रूप में गिने जाने कटियारी क्षेत्र में जन स्वास्थ्य की दिशा में इन केंदों की स्थापना से  लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सकेगी। 


बर्रा में बनने वाले गौ सरंक्षण केंद्र से आस पास के तकरीबन 1500 गौवंशों को सरंक्षित कर 2 दर्जन से ज्यादा गांवों के किसानों की फसलों की सुरक्षा की जा सकेगी। इस गौ संरक्षण केंद्र में स्वयं सहायता समूह के माध्यम से निराश्रित गौवंश से प्राप्त होने वाले गोबर और गौ मूत्र से वर्मी कंपोस्ट और कीटनाशक निर्माण की इकाइयां स्थापित कर लोगों को रोजगार देने की भी योजना है। विधायक श्री रानू की विकास की सोच की सराहना क्षेत्रीय निवासियों ने करते हुए उनके प्रति आभार व्यक्त किया है।

Share this story