कांग्रेस ने कहा- योग को लोकप्रिय बनाने का श्रेय नेहरू को, थरूर ने कहा- मोदी सरकार का भी योगदान

नई दिल्ली, 21 जून (आईएएनएस)। कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने योग को लोकप्रिय बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और यहां तक कि इसे राष्ट्रीय नीति का हिस्सा भी बनाया। वहीं, पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए मौजूदा मोदी सरकार के योगदान को भी स्वीकार किया जाना चाहिए।
कांग्रेस ने कहा- योग को लोकप्रिय बनाने का श्रेय नेहरू को, थरूर ने कहा- मोदी सरकार का भी योगदान
नई दिल्ली, 21 जून (आईएएनएस)। कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने योग को लोकप्रिय बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और यहां तक कि इसे राष्ट्रीय नीति का हिस्सा भी बनाया। वहीं, पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए मौजूदा मोदी सरकार के योगदान को भी स्वीकार किया जाना चाहिए।

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में कहा, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर हम पंडित नेहरू को धन्यवाद देते हैं, जिन्होंने योग को लोकप्रिय बनाने में अहम भूमिका निभाई और यहां तक कि इसे राष्ट्रीय नीति का हिस्सा भी बनाया। आइए हम प्राचीन कला के महत्व की सराहना करें और हमारे शारीरिक तथा मानसिक कल्याण में दर्शन और इसे अपने जीवन में शामिल करने के लिए कदम उठाएं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने भी पार्टी के सुर में सुर मिलाते हुए कहा, हमें उन सभी को भी स्वीकार करना चाहिए जिन्होंने हमारी सरकार सहित योग को पुनर्जीवित और लोकप्रिय बनाया। हालांकि उन्होंने इसे संयुक्त राष्ट्र में मान्यता दिलवाने के लिए पीएम मोदी की भी तारीफ की।

कांग्रेस के जवाब में एक ट्वीट में थरूर ने कहा, वास्तव में। हमें उन सभी को भी स्वीकार करना चाहिए जिन्होंने योग को पुनर्जीवित किया और लोकप्रिय बनाया। इसमें हमारी सरकार, प्रधानमंत्री कार्यालय, विदेश मंत्रालय भी शामिल है जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अंतर्राष्ट्रीयकरण किया। जैसा कि मैं दशकों से कह रहा हूं, योग दुनिया भर में हमारी सॉफ्ट पावर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और इसे मान्यता प्राप्त होते देखना बहुत अच्छा है।

दुनिया भर में लोग 21 जून को 9वां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मना रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में उत्सव की अगुवाई करेंगे, जिसमें 180 से अधिक देशों के प्रतिनिधि शामिल होंगे।

उल्लेखनीय है कि एक अनुमान के अनुसार दुनिया भर में 25 करोड़ व्यक्तियों के इस कार्यक्रम में भाग लेने की उम्मीद है, जो वसुधैव कुटुम्बकम् के थीम पर केंद्रित है।

--आईएएनएस

एकेजे

Share this story