बिहार: नीरा उत्पादन और बिक्री में गया का पहला स्थान, 18 लाख लीटर से ज्यादा हुआ उत्पादन

गया, 21 जून (आईएएनएस)। बिहार का गया जिला नीरा उत्पादन और बिक्री के मामले में नंबर एक बना है। जिले में अब तक 18 लाख लीटर से अधिक नीरा का उत्पादन एवं 17 लाख लीटर से अधिक नीरा की बिक्री हुई है। जिला परियोजना प्रबंधक जीविका आचार्य मम्मट ने बताया कि नीरा उत्पादन एवं बिक्री में गया जिला ने राज्य में प्रथम स्थान प्राप्त किया है।
बिहार: नीरा उत्पादन और बिक्री में गया का पहला स्थान, 18 लाख लीटर से ज्यादा हुआ उत्पादन
गया, 21 जून (आईएएनएस)। बिहार का गया जिला नीरा उत्पादन और बिक्री के मामले में नंबर एक बना है। जिले में अब तक 18 लाख लीटर से अधिक नीरा का उत्पादन एवं 17 लाख लीटर से अधिक नीरा की बिक्री हुई है। जिला परियोजना प्रबंधक जीविका आचार्य मम्मट ने बताया कि नीरा उत्पादन एवं बिक्री में गया जिला ने राज्य में प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

जारी आंकड़ों के मुताबिक, गया में अप्रैल से अब तक 18 लाख 51 हजार 241 लीटर नीरा उत्पादित किए गए हैं। जबकि, 17 लाख 23 हजार 762 लीटर की बिक्री की गई है। दूसरे स्थान पर वैशाली है, जहां 17 लाख 25 हजार 620 लीटर और तीसरे स्थान पर नालंदा है, जहां 17 लाख 15 हजार 667 लीटर नीरा का उत्पादन हुआ है।

नीरा ताड़ एवं खजूर के पेड़ों से ही एक विशेष प्रक्रिया द्वारा प्राप्त किया जाता है। गया ही नहीं राज्य में ताड़ और खजूर के पेड़ बहुतायत में उपलब्ध हैं। बताया जाता है कि यहां 14 लाख के करीब ताड़ के पेड़ हैं।

उल्लेखनीय है कि बिहार में पारंपरिक रूप से ताड़ी उतारने का कार्य किया जाता रहा है। लेकिन, 2016 में शराबबंदी के बाद शराब के साथ ताड़ी उत्पादन एवं बिक्री पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। नीरा में नशा नहीं होता है। गया में फिलहाल 223 अस्थाई एवं 60 स्थाई केंद्रों के माध्यम से नीरा बिक्री की जा रही है। मानपुर, आमस एवं चंदौती में नीरा की आइसक्रीम बनाकर बेचा जा रहा है।

--आईएएनएस

एमएनपी/एबीएम

Share this story