गंजेपन का सफल चमत्कारी इलाज जानिए 

गन

आज कल  लोगों बालो की समस्या से काफ़ी परेशान रहते है जैसे की बाल झड़ना या बाल रहना ही ना ध्यान इस बात पर दें कि हेयर फाल के बहुत रीजन होते है और लोगो द्वारा उतने नुस्खे भी बताये जाते है हेयर फाल का सही कारण डर्मिटोलाजिस्ट जाँच कर के बताते है  किसी को हेयर फाल हो तो डाक्टर से मिलते | मै एक आयुर्वेदिक नुस्खा बताने जा रहे है   जिसे बाल धोने के लिये कोई भी इस्तेमाल कर सकता है . इसका बहुत लोंगो पर फायदा मैने देखा है . हाँलाकि कुछ लोगो पर बहुत कम फायदा हुआ . जिसका कारण है |

cinnamon milk benefits दालचीनी में दूध मिलाकर पीने के फायदे ? जानिए दालचीनी वाला दूध कैसे बनाएं

 

गंजेपन का इलाज है?

100 ग्रा आँवला , 100 ग्रा रीठा , 100 ग्रा शिकाकाई , 10 ग्रा गिलोय , 10 ग्रा ब्राह्मी , 10 ग्रा भृगंराज , 5 ग्रा देशी हिना , 5 ग्रा नीम की सूखी पत्ति का चूर्ण , 5 ग्रा सूखी तुलसी की पत्ति का चूर्ण   तुलसी और नीम के पत्तियो को छाये मे सुखा कर उसका चूर्ण बना ले   जिस दिन आपको ये लगाना है उससे पहले वाली रात को लोहे के बर्तन या कढाई मे डेढ गिलास पानी डाल के खौलाये और उसमे इस मिश्रण का 2 चम्मच डाल दें . जब पानी 1 कटोरी जितना बचे तब गैस बन्द कर दे और उसे रात भर छोड दे , सुबह फिर से अपने हाथो से मिश्रण को खूब निचोडे मसले और अच्छे से घोल के सब छान ले . अब उस 1 कटोरी मिश्राण के पानी से बालो मे खूब अच्छे से मसाज करे . पूरे बाल मे लगा के  7 से 10 मिनट छोड दे फिर सादे पानी से बाल धो ले 

आयुर्वेद में कपिंग थेरैपी क्या होती है और इससे क्या फायदे होते हैं? जानिए

 

क्या बाल गिरने के बाद बाल वापस उगते हैं?

इसका प्रयोग हफ्ते मे 3 या 4 दिन जब आपकी मर्जी हो कर सकते है जिस दिन इसका प्रयोग करना है उससे एक रात पहले बालो मे आयलिंग करे चाहे नारियल का तेल हो , बादाम हो , जैतून हो , तिल हो . कडवे तेल जैसे सरसो आवले का प्रयोग न करे अधिक फायदे के लिये , बाल धोने से आधा घँटा पहले दही से बालो मे मसाज करे |

What fruits we eat in winter? सर्दियों में कौन कौन से फल खाने चाहिए?

क्या हम फिर से बाल उगा सकते हैं?

गंजेपन का चमत्कारी इलाज अभी तक नहीं खोजा गया है।  कुछ उपचार हैं जो गंजेपन को रोकने या धीमा करने में मदद कर सकते हैं। इन उपचारों में शामिल हैं

मेडिकल उपचार: गंजेपन के लिए कई तरह की दवाएं उपलब्ध हैं। इनमें मिनॉक्सिडिल (रोगैन), फ़िनासटेराइड (प्रोपेशिय), और ड्यूटास्टेराइड (एडवास्टेर) शामिल हैं। ये दवाएं बालों के विकास को बढ़ाने में मदद कर सकती हैं।

सर्जिकल उपचार: गंजेपन के लिए कई तरह की सर्जिकल प्रक्रियाएं भी उपलब्ध हैं। इनमें ट्रांसप्लांट, फ़िलर, और स्कारिंग शामिल हैं। ये प्रक्रियाएं बालों को पुनः प्राप्त करने में मदद कर सकती हैं। कुछ घरेलू उपचार भी हैं जिनका दावा किया जाता है कि वे गंजेपन को रोकने या धीमा करने में मदद कर सकते हैं। इनमें शामिल हैं |

दालचीनी: दालचीनी में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो बालों के विकास को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। दालचीनी को दूध में मिलाकर या चाय में डालकर सेवन किया जा सकता है।

एलोवेरा: एलोवेरा में एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो बालों के झड़ने को रोकने में मदद कर सकते हैं। एलोवेरा जेल को सीधे बालों पर लगाया जा सकता है।

नारियल तेल: नारियल तेल में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो बालों के विकास को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। नारियल तेल को बालों पर लगाकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दिया जा सकता है।



 

Share this story