धीमे ओवर रेट के कारण ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने गंवाए अहम डब्ल्यूटीसी अंक

एजबस्टन, 21 जून (आईएएनएस)। एजबस्टन में खेले गए एशेज के पहले टेस्ट में धीमे ओवर रेट के कारण ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों पर दो डब्ल्यूटीसी अंकों का जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा टीमों के खिलाड़ियों पर 40 फीसदी मैच फीस का जुर्माना भी लगाया गया है।
धीमे ओवर रेट के कारण ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने गंवाए अहम डब्ल्यूटीसी अंक
एजबस्टन, 21 जून (आईएएनएस)। एजबस्टन में खेले गए एशेज के पहले टेस्ट में धीमे ओवर रेट के कारण ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों पर दो डब्ल्यूटीसी अंकों का जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा टीमों के खिलाड़ियों पर 40 फीसदी मैच फीस का जुर्माना भी लगाया गया है।

मैच रेफरी एंडी पायक्रॉ़फ्ट के अनुसार दोनों टीमें अपने लक्ष्य से दो ओवर पीछे थीं। दोनों कप्तानों ने इस आरोप को स्वीकार कर लिया है। दोनों टीमों पर एक-एक ओवर के लिए 20 फीसदी मैच फीस और एक डब्ल्यूटीसी अंक काटे गए हैं।

एजबस्टन टेस्ट के पहले दिन दोनों टीमों ने कुल 82 ओवर की गेंदबाजी की थी। इंग्लैंड ने जब पहले दिन अपनी पारी घोषित की तब कुल 78 ओवर हुए थे। इसके बाद जब ऑस्ट्रेलिया की टीम बल्लेबाजी करने आई तब इंग्लैंड ने चार ओवर की गेंदबाजी की। हालांकि दूसरे दिन इंग्लैंड ने कुल 90 ओवर की गेंदबाजी की। इसके लिए उन्हें आधा घंटा अतिरिक्त भी दिया गया था। तीसरे और पांचवें दिन बारिश ने दिन के खेल में बाधा डाली थी लेकिन उस दौरान भी इंग्लैंड का ओवर रेट धीमा था।

इंग्लैंड पर लगी इस पेनल्टी का मतलब है कि डब्ल्यूटीसी अंक तालिका में इंग्लैंड के पास फिलहाल माइनस 2 अंक हैं। पहले टेस्ट में मिली जीत से ऑस्ट्रेलिया को 12 अंक मिले थे लेकिन धीमे ओवर रेट की पेनल्टी के कारण अभी उनके पास सिर्फ 10 अंक है।

हाल ही में खेले गए डब्ल्यूटीसी फाइनल में धीमे ओवर रेट के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों पर 80 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगा था। इसके अलावा पहले डब्ल्यूटीसी साइकिल में अगर वह धीमे ओवर रेट के कारण अंक नहीं गंवाते तो उन्हें आसानी से फाइनल में खेलने का मौका मिल सकता था, जो भारत और न्यूजीलैंड के बीच साउथम्पटन में खेला गया था।

--आईएएनएस

आरआर

Share this story