संगीतमय श्री सुन्दरकाण्ड और हनुमान चालीसा का पाठ किया गया
 

Musical recitation of Shri Sunderkand and Hanuman Chalisa
Musical recitation of Shri Sunderkand and Hanuman Chalisa
उत्तर प्रदेश डेस्क लखनऊ(आर एल पांडेय)। आषाढ़ मास के प्रथम शनिवार को पर्वतीय महापरिषद लखनऊ के गोमती नगर स्थित भवन में श्री सुंदरकांड एवं हनुमान चालीसा के पाठ का आयोजन हुआ। मुख्य यजमान की भूमिका में उपाध्यक्ष एवं सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के प्रभारी महेंद्र पन्त एवं उनकी धर्म पत्नी श्रीमती दीपा पंत रहे।

सुन्दर काण्ड के पाठ से पूर्व आचार्य पं. लक्ष्मी दत्त चौबे जी द्वारा गणेश जी का पूजन हुआ।  इस अवसर पर पर्वतीय महापरिषद के संरक्षक, सलाहकार, पदाधिकारी, कार्यकारणी सदस्य, विभिन्न प्रकोष्ठों एवं क्षेत्रीय शाखाओं के पदाधिकारियों द्वारा संगीतमय श्री सुन्दर काण्ड और हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। इस अवसर पर विशेष रूप से श्री एन.के.उपाध्याय, श्री राजेंद्र सिंह डॉक्टर आर.सी पन्त, श्री टी.एस.मनराल, श्री कौस्तुभ आनंद चंदोला, श्री गणेश जोशी, श्री महेंद्र सिंह रावत, श्री बिशन दत्त जोशी, श्री देवेन्द्र मिश्रा,श्री लक्ष्मण सिंह धामी, श्री एच.सी.ओली,

डॉ बी.एस.नेगी, ख्याली सिंह कालाकोटी, श्री आनंद सिंह कपकोटी, श्री त्रिभुवन सिंह बोरा, श्री ज्ञान पन्त, श्री एन.के. पाठक, श्री के.एस.रावत,श्री महेंद्र सिंह मेहता, श्री गोपाल जोशी, श्री भुवन पांडे  श्री गोकुल उप्रेती, श्री एन.एस.बिष्ट, श्री गोविंद बोरा, श्री के एन पांडेय, श्री बसंत भट्ट, श्री उमेश खुल्वे, श्री एन.सी.त्रिपाठी,श्री हरीश काण्डपाल, श्री गोपाल गैलाकोटी,श्रीमती सुमन रावत श्रीमती अधिकारी श्रीमती दीपा मिश्रा श्रीमती दीप्ति जोशी श्रीमती सुमन मनराल, श्रीमती लीला जोशी श्रीमती बीना तिवारी श्रीमती बीना रावत श्रीमती भावना जोशी श्रीमती चित्र कांडपाल,

श्रीमती मोहनी धपोला, श्रीमती दीपा बिष्ट,सुश्री ऋचा जोशी, कुमारी अनुष्का जोशी, संगीतकार के रूप में श्री दिवाकर राव श्री किशोर श्री नरेंद्र फर्तियाल, श्री छवि , श्री प्रेम पांडे  ने वाद्य यंत्रों की सुंदर प्रस्तुति दी । पंडित रमेश उपाध्याय और कार्यालय प्रभारी श्री कैलाश बिनवाल की  सुन्दर व्यवस्था ने बहुत ही सुंदर एवं आध्यात्मिक वातावरण बना दिया । अंत में श्री महेंद्र पन्त द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया और बजरंगबली से प्रार्थना की कि सभी पर अपना आशीर्वाद बनाए रखें, सभी का कल्याण हो और विश्व में हमारा मान बढ़े।

Share this story