लड्डू गोपाल की सेवा करने से क्या फल मिलता है? Laddu Gopal Ki Seva Ke Niyam

thakur ji ki seva kaise karen

Laddu Gopal Ko Kya Pasand Hai?

लड्डू गोपाल को भोग में क्या पसंद है?

Thakur Ji Ki Seva Kaise Karen?

 

आज हम आपको हमारे लड्डू गोपाल के बारे में बहुत ही इंट्रेस्टिंग सी इनफार्मेशन बताने जा रहे हैं क्यूंकि जो भी कृष्ण भक्त हैं या जितने लोग भी लड्डू गोपाल की सेवा करते हैं तो उनके मन में कभी न कभी ये विचार जरूर आता होगा की लड्डू गोपाल हमारे मन हमारी पूजा या हमारे घर में जाग्रत हैं या नहीं. या फिर क्या सच में लड्डू गोपाल हमारे साथ हैं की नहीं.

लड्डू गोपाल को घर में रखने के क्या नियम हैं? Kaise Pata Kare Ki Laddu Gopal Aapki Seva Se Khush Hain Ya Nahin

देखिये लड्डू गोपाल की सेवा करना तो सभी को बहुत ही पसंद है. तो मैं आपको कुछ ऐसे संकेत बताने वाली हूँ, जिससे आपको ये कन्फर्म हो जायेगा की सच में लड्डू गोपाल आपके घर में विराजमान हैं या नहीं. और सबसे ज्यादा संकेत उनको देखने को मिल सकते हैं जो लड्डू गोपाल को भगवान न मानकर अपने बेटे, अपने भाई या अपने किसी भी भाव से उनकी सेवा करते हैं. अगर आप भी लड्डू गोपाल की सेवा करते हैं तो आपने भी कभी न कभी ये संकेत जरूर महसूस किए होंगे. और अगर इनमे से आपने एक भी संकेत को महसूस किया है तो कमेंट करके जरूर बताइयेगा. जिसमे से सबसे पहला संकेत तो यही है की जो लड्डू गोपाल की सेवा करते हैं उनके घर में दूध, दही, घी, मक्खन आदि की कमी ना होना. क्यूंकि ये सारी चीज़ें लड्डू गोपाल को बहुत ही प्रिय हैं और जब वो किसी पर प्रसन्न होते हैं तो वो इन सारी चीज़ों की पहले से ही व्यवस्था करते हैं ताकि किसी को उनकी सेवा में परेशानी न आये. और अगर आपके घर में भी ये इन चीज़ों की कमी नहीं है तो ये निश्चित है की आपके घर में लड्डू गोपाल का आशीर्वाद है. और दूसरा संकेत है की अगर आपको अचानक से कभी ठाकुर जी के लिए कुछ स्पेशल सा भोग बनाने का मन करे, की आज लड्डू गोपाल के लिए ये बनाएंगे तो इसका मतलब है की खुद लड्डू गोपाल का वो चीज़ खाने का मन है इसीलिए आपके मन में ये विचार या ऐसा भाव आया.

thakur ji ko bhog lgana

लड्डू गोपाल को भोग में क्या पसंद है? Laddu Gopal Ki Seva Ke Niyam

तीसरा संकेत है की जब आपको कहीं बाहर जाना होता है और आप ठाकुर जी से आज्ञा लेने आएं तो अगर आपको वहां पर ठाकुर जी का सामान सब बिखरा हुआ मिले, यानि की उनका मुकुट कहीं पड़ा है, बासुंरी कहीं पड़ी है तो आप समझ जाइये की लड्डू गोपाल भी आपके साथ बाहर जाने की जिद कर रहे हैं और अगर पॉसिबल हो उनको भी अपने साथ लेकर जाइये. चौथा संकेत है की जब आप लड्डू गोपाल को नहलाने के बाद उनके लिए कोई ड्रेस निकालकर लाते हैं की ये लड्डू गोपाल को पहना देंगे, लेकिन पहनाने के समय अगर किसी भी कारणवस आपको कोई दूसरी ड्रेस ही पहनानी पड़े, तो इसका मतलब है की लड्डू गोपाल अपनी पसंद और ना पसंद के हिसाब से आपसे सेवा ले रहे हैं. और पांचवां संकेत है की जब आप लड्डू गोपाल के लिए कुछ बनाने के लिए सोंचते हैं जैसे की कोई उनके लिए कोई कपड़े, स्वेटर या उनकी कोई ज्वेलरी. तो जब भी आपके उनके सामने जाते हैं तो आपको ऐसा लगेगा जैसे की खुद ठाकुर जी आपके पूछ रहे है की कहाँ है मेरी ड्रेस या कहाँ है मेरी ज्वेलरी. और जब तक आप उनके लिए वो चीज़ बना नहीं देते, तब तक आपको चैन से वो बैठने नहीं देंगे.और अगर आपके साथ कभी ऐसा हुआ है तो समझ लीजिये की ठाकुर जी आपके घर में जाग्रत हैं. छटवां संकेत है की जब आप ठाकुर जी को स्नान करवाने के लिए जाते हैं और गलती से बार बार आप उनकी कोई चीज़ भूल जा रहे हैं तो इसका मतलब है की लड्डू गोपाल आपकी सेवा से बहुत प्रसन्न हैं और वो अब आपको बस थोड़ा सा तंग कर रहे हैं. सातवां संकेत है की अगर आपका कोई भी सामान कहीं खो गया है या आप घर में ही रखकर उसको भूल गए हैं और बहुत कोशिस के बाद भी वो आपको नहीं मिल रहा है और अगर आप थककर लड्डू गोपाल के सामने बैठकर उनको अपनी परेशानी बताते हैं और उसके बाद ही आपको याद आ जाता है या फिर अचानक से आपका सामान रखा हुआ मिल जाता है. जिससे आपको खुद ही लगता है की अभी ये सामान  यहां नहीं था लेकिन अब ये अचानक से मिल गया. तो इसका मतलब है की लड्डू गोपाल की आप पर कृपा है और वो आपके घर में जाग्रत हैं.

laddu gopal ko kaise nahlayen

लड्डू गोपाल को घर में रखने से क्या लाभ होता है? Thakur Ji Ki Seva Kaise Karen

आठवां संकेत ये है की कभी अगर आपने नोटिस किया होगा. तो देखा होगा कभी कभी लड्डू गोपाल हमे मुस्कुराते हुए नज़र आते हैं, कभी उदास नज़र आते हैं, कभी ऐसा लगता है की ठाकुर जी हमारी किसी बात पर नाराज हैं, या फिर हमसे कुछ कहना चाहते हैं. अगर सर्दियों के मौसम में आप उनको कभी जल्दी उठा देते हैं तो आपको लगेगा की अभी उनकी आँखों में नींद है. और ये संकेत उनको ही मिलते हैं जो उनकी बहुत सेवा करते हैं या उनके साथ बहुत सारा समय बिताते हैं. और नौंवा संकेत है की जो भी लड्डू गोपाल की सेवा करते हैं तो सुबह सुबह उनकी दीपक जलाकर आरती जरूर करते हैं और आरती के बाद उसपर एक फ़ूलनुमा आकृति बन जाती है. ऐसा माना जाता है की ये भी लड्डू गोपाल की प्रसन्नता का ही एक संकेत है. और दसवां और आखिरी संकेत होता है जैसे की अगर आपके घर में लड्डू गोपाल की पूजा आरती चल रही है ऐसे में आपके द्वार पर गौ माता आ जाएँ तो ऐसा होना बहुत शुभ माना जाता है. क्यूंकि जहाँ लड्डू गोपाल की बांसुरी बजती है वहां गौ माता अपने आप ही चली आती हैं. तो अगर आपको इस तरीके के कोई भी संकेत मिले हैं या इन सबसे अलग भी कोई संकेत मिला है तो कमेंट करके जरूर शेयर करियेगा।

laddu gopal ki pooja kaise kre

और अगर आपको ऐसा कोई भी संकेत नहीं मिला है तो आपको जरुरत है लड्डू गोपाल की सेवा बढ़ाने की, और उनके प्रति अपना प्यार बढ़ाइए, अपनी दिनचर्या में थोड़ा समय निकालकर लड्डू गोपाल को जरूर दें और उनसे बातें करें. और अगर फिर भी आपको लड्डू गोपाल का अहसास नहीं हो रहा तो राधा रानी का ध्यान करें. फिर देखिएगा की लड्डू गोपाल कैसे खिंचे चले आते हैं. 

Share this story