Pitru Paksha 2023 : पितृ पक्ष के दौरान हमें क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिये जानिए 

Pitru Paksha 2023  Know what we should and should not do during Pitru Paksha
Pitru Paksha 2023

Pitru Paksha 2023 : हिंदू धर्म में पितृ पक्ष को बहुत ही खास माना जाता है। पितृ पक्ष में पूर्वजों के निमित्त विधि विधान से तर्पण और श्राद्ध करें. ब्राह्मण को भोजन कराएं, दान दें. साथ ही साल की हर एकादशी, चतुर्दशी, अमावस्या पर पितरों को जल अर्पित करें और त्रिपंडी श्राद्ध करें

Aasia Games 2023 Hockey : Team India ने Pakistan को 10-2 से हराया

क्या करना चाहिए
पितृ पक्ष के दौरान शाम के समय में सरसों के तेल या गाय के घी का दीपक दक्षिण मुखी लौ करके जलाना चाहिए।
इन दिनों में रोजाना पितरों का तर्पण करें और हो सके तो यह किसी ब्राह्मण से करवाएं।
पितृ पक्ष में रोजाना पितृ गायत्री मंत्र का जाप करें। ऐसा करने पर पितृ दोष से मुक्ति मिलती है। 
श्राद्ध वाले दिन अपनी शक्ति के अनुसार ब्राह्मणों या गरीबों को भोजन कराएं और उनका आशीर्वाद लें। 

Pitru Paksha 2023

Also Read - तुलसी का उपयोग किन किन चीजो में किया जाता है जानिए 

क्या नहीं करना चाहिए
पितृ पक्ष के दिनों में किसी भी तरह के शुभ और मांगलिक कामों को करनी करना चाहिए। 
इन दिनों में कोई भी नई चीज खरीदकर घर नहीं लाना चाहिए।
पितृ पक्ष की अवधि के दौरान तामसिक भोजन नहीं करना चाहिए और प्याज लहसुन को त्याग देना चाहिए।
पितृ पक्ष में बाल, दाढ़ी और नाखूनों को नहीं कटवाना चाहिए। कहते हैं ऐसा करने पर धन की हानि होती है।

Pitru Paksha 2023

Also Read - रिकी पोंटिंग ने दूसरे टेस्ट के लिए प्लेइंग इलेवन की भविष्यवाणी की

कुश घास से बनी अंगूठी पहनें। इसका उपयोग पूर्वजों का आह्वान करने के लिए किया जाता है।
पिंड दान के एक भाग के रूप में जौ के आटे, तिल और चावल से बने गोलाकार पिंड को भेंट करें।
शास्त्र सम्मत मान्यता यही है कि किसी सुयोग्य विद्वान ब्राह्मण द्वारा ही श्राद्ध कर्म (पिंड दान, तर्पण) करवाना चाहिये।
श्राद्ध कर्म में पितरों के साथ-साथ गाय, कुत्ते, कौवे आदि पशु-पक्षियों के लिए भी भोजन का एक अंश जरुर डालना चाहिए।

Pitru Paksha 2023

Share this story