What is the use of Makoy? बुखार और पीलिया जैसे रोगों में बहुत कारगर मकोय, जानें इसके जबरदस्त चमत्कारी फायदे जानिए 

मकोय की पत्ती खाने से क्या लाभ है?
Lifestyle :रस से भरी मकोय केवल मुंह का स्वाद नहीं है बल्कि शरीर की कई बीमारियों को दूर करती है। इसके फल और पत्ते सभी लाभकारी हैं। मकोय एक पौधा है। इसके कई आयुर्वेदिक फायदे हैं। मकोय (Makoy) का पौधा धान, गेहूं, मक्का किसी के भी खेत में छाव वाली जगह पर मिल जाता है। यह हर साल और कहीं भी उग जाता है। बिना किसी विशेष देखभाल के यह खरपतावार के रूप में उगता है। 

मकोय का उपयोग कैसे करें?

मकोय (Black night or night shade) के फल खाने से बुखार, एक्जिमा, सांस संबंधी परेशानियां ठीक होती हैं। इसके फल कच्चे होने पर हरे और पकने पर पीले लाल और बैंगनी रंग के होते हैं। बैंगनी मकोय खाने में बहुत मीठी होती है। यह दिखने में टमाटर की तरह होती है। पर आकार में बहुत छोटी। इसका पौधा दिखने में हरी मिर्च के पौधे के समान होता है। इस छोटे से पौधे के कई फायदे हैं जो शरीर के विकारों को दूर करते हैं। मकोय के फल दिखने में इतने चमकदार होते हैं कि जिसको इसके स्वाद के बारे में मालूम होगा वह उसके बारे में सोचकर मुंह में पानी ले आएगा। आइए जानते हैं मकोय के वे फायदे जिनसे शरीर बीमारियों से दूर रहता है।

गिलोय से कौन कौन सी बीमारी को ठीक किया जा सकता ? जानिए

 

मकोय की पत्ती खाने से क्या लाभ है?

1. बुखार को करे दूर

मकोय (Makoi) का सेवन करने से बुखार दूर होता है। यह गुणकारी औषधि है कि अगर आप मकोय के फल का सेवन सीधे कर रहे हैं तो बुखार उतरने में मात्र एक घंटा लगेगा। अगर आपके पास मकोय नहीं है तो आजकल बाजार में मकोय के चूर्ण भी आने लगे हैं। यह चूर्ण किसी भी आयुर्वेदिक दुकान से मिल जाता है।

2. भूख बढ़ाए

मकोय केवल बुखार ही दूर नहीं करता है। बल्कि यह भूख भी बढ़ाता है। इस पौधे की आयुर्वेद में विशेष अहमियत है। भूख बढ़ाने के लिए मकोय के पत्तों का साग बनाकर खाएं। इसे खाने भूख की समस्या से निजात मिल जाती है। दूसरा आप सीधे मकोय के मीठे फल का सेवन कर सकते हैं। यह फल रसभरी की तरह होते हैं। यह उसी प्रजाति के फल हैं।पीलिया में फायदेमंद होता है।

How can I be healthy at any age? बुढ़ापे तक स्वस्थ रहने के लिए जानिए ये नियम

3. मकोय 

मकोय के पत्तों का काढ़ा बनाकर पीने से पीलिया रोग जल्दी ठीक हो जाता है। जॉइंडिस में आपकी जो दवाएं चल रही हैं उनको खाते हुए भी इस मकोय का सेवन किया जा सकता है। मकोय वाक, पित्त और कफ के दोष को खत्म करता है।

4.बालों की समस्या से 

जिन लोगों को काले बाल करने हैं। उनके लिए मकोय फायदेमंद है। मकोय के बीज से बनने वाले तेल की दो बूंदें नाक में डालने से बाल काले होने लगते हैं। पर यह सभी आयुर्वेदिक आपको सही उपयोग मालूम होना चाहिए। तभी इसका करें।

डायबिटीज में कैसे इस्तेमाल करें मदार की पत्तियां?

5. मुंह के छोले दूर भगाए 

गर्मी हो या सर्दी मुंह में छाले किसी भी मौसम में हो जाते हैं। मकोय के पत्ते (Makoi ke patte) मुंह के छाले भगाने में कारगर हैं। आपको कुछ नहीं करना है, बस छाले होने पर 5-10 पत्ते चबा लें। इनसे मुंह के छालों में फायदा मिलता है। आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां व पौधे हैं जिनका स्वास्थ्य के लिए विशेष लाभ, लेकिन हमें उनकी समझ या जानकारी नहीं है, जिस वजह से हम उनका उपयोग नहीं कर पाते हैं।

6. खाज-खुजली की समस्या से 

गर्मी में होने वाली तमाम त्वचा संबंधी रोगों से बचाने में मकोय फायदा करता है। मकोय के पत्तों को पीसकर खुजली वाली जगह पर लगाने से खाज-खुजली में फायदा मिलता है। तो वहीं, मकोय के पत्ते पीसकर दाद पर लगाने से दाद खत्म होता है। मकोय में खून को साफ करने वाले गुण पाए जाते हैं, त्वचा संबंधी रोगों को खत्म करता है।

पोस्ट स्वास्थ्य जानकारी हेतु रिट्वीट शेयर और aapkikhabar को फालो जरूर करें धन्यवाद

Share this story